digvijayविजयवाड़ा,  कांग्रेस महासचिव दिग्विजय सिंह ने मध्य प्रदेश में पुलिस की कथित मुठभेड़ में सिमी के आठ आतंकवादियों के मारे जाने के मामले की अदालत की निगरानी के साथ राष्ट्रीय जांच एजेंसी(एनआईए) से जांच कराने की आज मांग की।

श्री सिंह ने यहां एक संवाददाता सम्मेलन में कहा कि अति सुरक्षित जेल से आठ कैदियों का भाग जाना सोच से परे है। इसके अलावा जेल के सुरक्षा कर्मी की हत्या पर विरोधाभासी बयान दिये गये। उन्होंने कहा कि सिमी आतंकवादी एक पहाड़ी पर हाथ हिलाते हुए दिखे लेकिन उन्हें गोली मार दी गयी।

उन्होंने कहा कि इस पूरे मुठभेड़ की जिम्मेदारी मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान की है। उन्होंने मुख्यमंत्री से इस मुठभेड़ पर एक स्पष्ट बयान देने की मांग की।

कांग्रेस नेता ने एनआईए के महानिदेशक शरद कुमार का सेवाकाल बढ़ाने पर भी संशय व्यक्त किया। उन्होंने आरोप लगाया कि एनआईए महानिदेशक राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ से सहानुभूति रखते हैं और जिन मामलों में हिंदू कट्टरपंथी ताकतें शामिल हैं, उन्हें खत्म करने के लिए उनका सेवाकाल बढ़ाया गया।

Related Posts: