rahulनयी दिल्ली,  नोटबंदी के मुद्दे को लेकर पिछले चार दिनों से संसद की कार्यवाही नहीं चलने दे रहे विपक्षी दलों ने आज इस मामले पर एकजुटता दिखाते हुये संसद भवन परिसर में अपनी मांगों के समर्थन में धरना प्रदर्शन किया। 10 से अधिक विपक्षी दलाें के करीब 200 सांसद संसद की कार्रवाही शुरु होने से पहले राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की प्रतिमा के समक्ष एकत्र हुये और उन्होंने काफी देर तक अपनी मांगों के समर्थन में प्रदर्शन किया।

उन्हाेंने नोट बंदी पर दोनों सदनों में चर्चा के दौरान प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के मौजूद रहने के साथ ही इस मुद्दे पर लोकसभा में नियम 56 के तहत काम रोको प्रस्ताव के माध्यम से चर्चा करने की मांग दोहराई। विपक्षी दल अपनी इन मांगों को लेकर पिछले चार दिन से भारी हंगामा कर रहे हैं जिसके कारण दोनों सदनों में कोई कामकाज नहीं हो पाया है।

धरना प्रदर्शन में शामिल नेताओं में कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी , राज्यसभा में विपक्ष के नेता गुलाम नबी आजाद, लोकसभा में कांग्रेस के नेता मल्लिकार्जुन खड़गे, तृणमूल कांग्रेस के सुदीप बंदोपाध्याय तथा डेरेक ओ ब्रायन के अलावा जनता दल यू के शरद यादव,सपा के रामगोपाल यादव, बहुजन समाज पार्टी के सतीश चंद्र मिश्रा, द्रमुक के त्रिचिशिवा,राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी के तारिक अनवर के अलावा,वाम दलों, राष्ट्रीय जनता दल आदि के सांसद शामिल थे।

Related Posts: