parliamentनयी दिल्ली,  नोटबंदी के मुद्दे पर विपक्षी सदस्यों ने आज लोकसभा जोरदार हंगामा किया जिसके कारण प्रश्नकाल के दौरान शोरशराबा हुआ और बाद में एक बार के स्थगन के बाद सदन की कार्यवाही दिनभर के लिये स्थगित करनी पड़ी।

सुबह 11 बजे सदन के समवेत होने पर अध्यक्ष ने जम्मू कश्मीर में उरी एवं कई अन्य स्थानों पर आतंकवादी हमलों में कई सैनिकों के शहीद होने तथा अन्य कई घटनाओं में लोगों के मारे जाने पर मौन रखकर शोक करने के बाद जैसे ही कार्यवाही आगे बढ़ायी, पूरा विपक्ष काम रोक कर नोटबंदी के मुद्दे पर अविलंब चर्चा की मांग करते हुए अध्यक्ष के आसन के सामने आ गया। अध्यक्ष ने सदस्यों को उनकी मांग पर विचार करने का आश्वासन देते हुए उन्हें शांत होकर अपनी सीट पर जाने को कहा लेकिन वे अपनी मांग पर अड़े रहे और लगातार हंगामा करते रहे।

भारी हंगामे को देखते हुए संसदीय कार्यमंत्री अनंत कुमार ने कहा कि सरकार नियम 193 के तहत चर्चा कराने को तैयार है लेकिन सदस्य इससे उत्तेजित होकर और हंगामा करने लगे। श्री कुमार ने कहा कि नोटबंदी से देश में कालेधन पर रोक लगेगी इसलिए सरकार ने 500 तथा 1000 रुपए का नोट बंद करने का फैसला लिया है। वह इस मुद्दे पर नियम 193 के तहत चर्चा कराने के पक्ष में है। लेकिन विपक्षी सदस्य कामरोको प्रस्ताव लाकर नियम 56 के तहत चर्चा कराने पर जोर दे रहे थे।

इसबीच अध्यक्ष ने प्रश्नकाल शुरू कर दिया और पूरे प्रश्नकाल में विपक्षी सदस्य आसन के सामने आकर हंगामा करते रहे। प्रश्नकाल समाप्त होने के बाद भी अध्यक्ष ने विभिन्न विपक्षी सदस्यों के काम रोको प्रस्ताव को नामंजूर करने की जानकारी दी और अावश्यक दस्तावेज़ सदन के पटल पर रखवाये। इसके बाद उन्होंने विपक्षी सदस्यों से अपील की कि वे अपनी सीट पर बैठ जायें तो वह नोटबंदी पर चर्चा कराने काे तैयार हैं।

Related Posts: