kejriwalनयी दिल्ली,  दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने पांच सौ और एक हजार रुपये के नोटों को बंद किये जाने पर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी पर हमला करते हुए कहा कि नोट बदलने में बड़ा घोटाला किया गया है और इसकी जानकारी भारतीय जनता पार्टी को पहले ही दे दी गयी थी जिससे कि वह अपने धन को बदल सके।

श्री केजरीवाल ने आज यहां संवाददाता सम्मेलन में कहा कि जुलाई और सितंबर की तिमाही में बैंकों में सामान्य की तुलना में अधिक पैसे जमा किये गये जिससे साफ पता चलता है कि सरकार ने अपने लोगों को इसकी जानकारी पहले दे दी थी। कालेधन वालों को भाजपा ने पहले ही सतर्क कर दिया था और अब नोट बदलने के नाम पर लोगों को परेशान किया जा रहा है।

नोट बंद करने के फैसले को वापस लिये जाने की मांग करते हुए श्री केजरीवाल ने कहा कि इससे अर्थव्यवस्था चौपट हो जाएगी। नोटबंदी के नाम पर घोटाले को अंजाम दिया जा रहा है। कालेधन वाले अपना पैसा सोना, संपत्ति और डॉलर में खरीद रहे हैं। डॉलर को दो हजार रुपये के नोट से बदला जा रहा है।

Related Posts: