rupeeनयी दिल्ली,  पांच सौ और एक हजार रुपये के नोटों को अमान्य किये जाने के केन्द्र सरकार के फैसले के खिलाफ दायर याचिका पर सुप्रीम कोर्ट में मंगलवार को सुनवाई होगी। न्यायमूर्ति अनिल आर दवे की अध्यक्षता वाली खंडपीठ ने आज उत्तर प्रदेश के एक वकील संगम लाल पांडेय की याचिका पर मंगलवार को सुनवाई करने का निर्णय लिया ।

श्री पांडेय ने अपनी याचिका में कहा कि सरकार द्वारा अचानक नोटों के बंद करने के फैसले से लोगों को भारी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है। निजी अस्पताल पांच सौ और एक हजार के नोटों को लेने से मना कर रहे हैं। उन्होंने सरकार के इस अादेश को ‘तुगलकी फरमान ‘करार देते हुए शीर्ष अदालत से इसे रद करने की अपील की है।

Related Posts: