modiमहोबा,  प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मप्र की तारीफ करते हुए कहा कि विकास के लिए बुन्देलखण्ड से अच्छा उदाहरण नहीं मिल सकता. मध्य प्रदेश और उत्तर प्रदेश दोनों में बुन्देलखण्ड है, लेकिन दोनों की स्थिति अलहदा है.

भाजपा शासित मध्यप्रदेश के बुन्देलखण्ड में विकास ही विकास है तो, उत्तर प्रदेश का बुन्देलखण्ड बेहाल है. प्रधानमंत्री ने कहा कि बुन्देलखण्ड में नदियां होने के बावजूद धरती प्यासी है. गुजरात के कच्छ में नदियां नहीं हैं, लेकिन बारिश के पानी के सटीक प्रबन्धन से अब वहां के किसान खुशहाल हैं.

मोदी ने कहा कि मध्य प्रदेश और उत्तर प्रदेश के बुन्देलखण्डों के लिए तीन-चार हजार करोड अलग-अलग दिये गये. मध्य प्रदेश ने पाई पाई खर्च कर अपने इलाके को विकसित कर दिया लेकिन उत्तर प्रदेश अभी भी मात्र 40 फीसदी धन ही खर्च कर पाया है. इसके लिए सिर्फ सपा और बसपा जिम्मेदार हैं.

उन्होंने कहा कि दिल्ली से भेज गये पैसों का उत्तर प्रदेश में बंदरबांट हुआ, वहीं भाजपा शासित मध्य प्रदेश ने योजनाएं पूरी की. उत्तर प्रदेश के बुन्देलखण्ड में तीस हजार कुओं पर काम होना था लेकिन तीन हजार कुंए ही बन पाये. मध्य प्रदेश सरकार ने अपना लक्ष्य पूरा करते हुए 47 हजार कुंए खुदवा डाले.

Related Posts: