modiनयी दिल्ली,  प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने सभी राजनीतिक दलों से आज संसद का शीतकालीन सत्र शुरु होने के मौके पर जीएसटी विधेयक सहित तमाम मुद्दों पर बहस में सहयोग की अपील की और कहा कि सरकार हर विषय पर खुल कर चर्चा करने के लिए तैयार है।

प्रधानमंत्री ने संसद परिसर में मीडिया के समक्ष अपने वक्तव्य में उम्मीद जतायी कि मौजूदा सत्र में चर्चा के लिए लाए जाने वाले सभी मुद्दों पर राजनीतिक दल सरकार को पूरा सहयोग देंगे। उन्होंने कहा ‘‘सभी विषयों पर चर्चा होगी। दलों की अपनी राजनीतिक सोच के आधार पर भी चर्चा होगी। सामान्‍य नागरिक की अपेक्षा व आवश्‍यकताओं के संदर्भ में चर्चा होगी।

सरकार की जो सोच है उस पर भी चर्चा होगी और मुझे लगता है कि बहुत ही अच्‍छी बहस भी सत्र में होगी।’’ श्री मोदी ने उम्मीद जताई कि पिछले बार की तरह ही इस बार भी सभी दलों का बहुत ही अच्‍छा योगदान रहेगा। उन्होंने कहा कि पिछले सत्र में जीएसटी से संबंधित संविधान संशोधन विधेयक का पारित होना एक बड़ी उपलब्धि थी। इसके कारण देश में एक टैक्‍स व्‍यवस्‍था का जो सपना है, उस दिशा में बड़ा अहम काम सदन ने किया।

उन्होंने कहा ‘मैंने उस दिन भी सभी दलों का धन्‍यवाद किया था। देशहित में जब सब दल साथ मिलकर चलते हैं, तो फैसले भी अच्‍छे होते हैं, जल्‍दी होते हैं, परिणाम भी अच्‍छा मिलता है।’ प्रधानमंत्री ने कहा कि सरकार की तरफ से जो भी विषय संसद में लाए जाएंगे उन्हें निबटाने के लिए सभी दलों को साथ लेकर आगे बढ़ने का भरपूर प्रयास किया जाएगा।

जीएसटी के काम को आगे बढ़ाने के लिए सभी राज्‍य सरकारों के साथ लगातार बैठकें हो रही हैं। सभी दलों के साथ लगातार विचार-विमर्श होता रहा है| उन्होंने कहा ‘सरकार का यह मत रहा है कि हर विषय पर खुल करके चर्चा हो’ इसके लिए हम तैयार हैं। इससे बहुत ही अच्‍छे महत्‍वपूर्ण निर्णय के लिए अनुकूलता बनेगी।

Related Posts: