modi1गांधीनगर,  प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की 90 वर्षीय वयोवृद्धा मां हीराबा ने भी आज यहां आम लोगों की तरह कतार में लग कर बैंक में अपने पुराने नोट बदले। हीराबा ने यहां रायसण स्थित ओरियेंटल बैंक ऑफ कामर्स की शाखा में अपने परिजनों के साथ पहुंच कर न केवल नोट बदली करने का फार्म भरा बल्कि वरिष्ठ नागरिकों के लिए बनी कतार में आकर काउंटर से पैसे भी लिये।

श्री मोदी के भाई पकंज माेदी, जो यहां गुजरात सरकार के सूचना विभाग में अधिकारी के तौर पर कार्यरत हैं, के साथ रहने वाली हीराबा के साथ वह और उनके परिजन भी बैंक आये थे। हीराबा ने बैंक कर्मी को पांच पांच सौ के कुल नौ नोट (कुल 4500) दिये जिनके बदले में उन्हें दो हजार का एक नया नोट तथा एक सौ के पांच और दस दस रूपये के दो बंडल बैंक की ओर से सौंपे गये।

बैंक कर्मी और आम लोगों ने प्रधानमंत्री की मां के स्वयं बैंक आने की भूरि भूरि सराहना की। एक बैंक कर्मी ने कहा कि यह देख कर उन्हें सुखद आश्चर्य हुआ है। इससे काले धन के खिलाफ प्रधानमंत्री लडाई को मजबूती मिलेगी और आम लोगों में सकारात्मक संदेश जाएगा। नोट बदलने के बाद पत्रकारों के सवालों के जवाब में अपने संक्षिप्त उत्तर में हीराबा ने कहा कि काले धन के खिलाफ उठाये गये कदम और स्वयं बैंक आकर नोट बदलने पर उन्हें बहुत खुशी हो रही है।

Related Posts: