shivrajभोपाल,  ग्यारह वर्षों से मुख्यमंत्री के तौर पर मध्यप्रदेश की सत्ता संभालने वाले शिवराज सिंह चौहान ने कलेक्टर एसपी कान्फ्रेंस के दौरान आज बुधवार को विकास का ग्यारह सूत्रीय एजेंडा कलेक्टर और पुलिस अधीक्षकों (एसपी) के समक्ष रखते हुए कहा कि जिले का नेतृत्व करने वाले ये आला अधिकारी सुशासन के सपने को साकार करने के लिए पूरी ताकत से जुट जाएं.

आधिकारिक सूत्रों के अनुसार चौहान ने कहा कि कलेक्टर और पुलिस अधीक्षकों के समक्ष इस एजेंडे के जरिए बेहतर कार्य करने और लोगों की तकलीफों को दूर करने का अवसर है.

मुख्यमंत्री ने साफ तौर पर कहा कि इस एजेंडे में स्पष्ट लक्ष्य तय किए गए हैं. अधिकारी इनका क्रियान्वयन करें. तीन माह बाद वीडियो कान्फ्रेंस और छह माह बाद कलेक्टर – एस.पी.कान्फ्रेंस में इसकी समीक्षा की जाएगी. मुख्यमंत्री ने कहा कि कलेक्टर और एसपी इस एजेण्डे के क्रियान्वयन के लिये जिलों में नेतृत्व करें. जन-कल्याणकारी योजनाओं का लाभ समय पर लोगों को पहुंचाने के लिए आवश्यक कदम उठाएं. नए उद्यमी तैयार करें.

निवेश के रास्ते में आने वाली बाधाओं को दूर करें. चौहान ने कहा कि यह अधिकारी अपने जिले में पर्यटन को बढ़ावा देने की योजना बनाएं. बेटी बचाओ – बेटी पढ़ाओ अभियान से समाज के सभी वर्गों को जोड़ें. बेहतर कानून – व्यवस्था के लिये तालमेल से कार्य करें.

 

Related Posts: