sindhu1भोपाल,  रियो ओलंपिक की रजत पदक विजेता स्टार बैडमिंटन खिलाड़ी पीवी सिंधू ने आज कहा कि उन्हें नंबर-वन स्पेन की कैरोलिना मारिन के खिलाफ प्रीमियर बैडमिंटन लीग और भविष्य में होने वाले मुकाबलों में कड़े संघर्ष की उम्मीद है. अपनी बोली पर कम कीमत होने पर देश की बेटी ने कहा कि पैसा सब कुछ नहीं है.

कैरोलिना को हराकर सब कुछ पा लूंगी. उन्होंने देशवासियों को कहा कि मुझसे जो उम्मीदें हैं उनको पूरा करने में कोई कसर बाकी नहीं छोड़ूंगी. ङ्क्षसधू ने कहा कि म.प्र. में जिस प्रकार खिलाड़ी इस खेल से जुड़ते जा रहे हैं, मैं इस बात की कामना करती हूं कि यहां से अंतर्राष्टï्रीय स्तर के साथ ही ओलंपिक खिलाड़ी निकलें. उन्होंने सीएम शिवराज ङ्क्षसह चौहान और खेल मंत्री यशोधराराजे ङ्क्षसधिया की प्रशंसा की. मारिन ने रियो ओलंपिक में सिंधू को हराकर स्वर्ण पदक अपने नाम किया था.

यहां मध्यप्रदेश सरकार द्वारा इस ऐतिहासिक सफलता के लिये उनके अभिनंदन समारोह के बाद भारतीय शटलर ने कहा कि हर किसी को यह उम्मीद है कि मारिन तथा मेरा मुकाबला एक बार फिर से होगा. यदि ऐसा होता है तो निश्चित रूप से यह एक कड़ा मुकाबला होगा.

रियो के बाद जीवन में आये बदलाव के बारे में सिंधू ने कहा कि रियो के बाद जीवन में काफी बदलाव आये हैं. रजत पदक जीतने के बाद जहां लोगों की मुझसे अपेक्षाएं अधिक हो गयी हैं वहीं इस स्तर को बनाये रखने के लिये और अधिक मेहनत करने की जरूरत है. प्रीमियर बैडमिंटन लीग की नीलामी में खुद को और हमवतन लंदन ओलंपिक की कांस्य पदक विजेता सायना नेहवाल को मिली कम राशि के बारे में पूछे जाने पर उन्होंने कहा कि मैं इस बारे में ज्यादा नहीं सोचती हूं. मैं सिर्फ अपने खेल के बारे में सोच रही हूं. यह सिर्फ एक प्रणाली है.

भारतीय रजत पदक विजेता ने खेलों में अधिक कोचों की नियुक्ति की जरूरत के बारे में पूछे जाने पर कहा कि हां निश्चित रूप से न केवल कोचों बल्कि फिजियो और प्रशिक्षकों की भी जरूरत है. कोच और फिजियो खिलाडिय़ों के जीवन में अहम स्थान रखते हैं और वह महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं.

आपके मुश्किल दौर में वह आप में उत्साह का संचार करते हैं. खिलाडिय़ों के चोटिल होने और भारतीय खिलाडिय़ों की फिटनेस के बारे में पूछे जाने पर उन्होंने कहा कि चोट जीवन का एक अहम हिस्सा है और यह खिलाडिय़ों के लिये असामान्य नहीं है. भविष्य में अपने जीवन पर फिल्म बनाये जाने के बारे में उन्होंने मुस्कराते हुये कहा कि वह अपने चरित्र को निश्चित रूप से निभाना चाहेंगी. मैं इस बारे में अभी कुछ नहीं सोच रही हूं लेकिन यदि कोई फिल्म बनती है तो मुझे खुशी होगी.

 

Related Posts: