modi1नयी दिल्ली,  प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने देश में प्राकृतिक आपदाओं को रोकने के लिए विकास योजनाओं में एहतियाती कदम उठाने के साथ-साथ आपदा प्रबंधन के क्षेत्र में महिलाओं और विश्वविद्यालयों को आगे आने का आह्वान करते हुए सोशल मीडिया का भी इस्तेमाल करने की सलाह दी है।

श्री मोदी ने आज यहाँ आपदा खतरा नियंत्रण के लिए एशियाई देशों के सम्मेलन को संबोधित करते हुए यह सलाह दी। उन्होंने आपदा प्रबंधन के लिए दस सूत्री फार्मूला सुझाते हुए कहा कि एशिया प्रशांत क्षेत्र में जिस तरह शहरीकरण तेजी से बढ़ रहा है, आपदा प्रबंधन के मामले में चुनौतिया बढ़ती जा रही है। दस वर्षों के भीतर गाँव से अधिक लोग अब शहरों में रहने लगेंगे और आबादी बढ़ जायेगी तथा शहरों में भीड़भाड़ हो जायेगी।

उन्होंने कहा “भवन तथा बाज़ार अधिक होने से आपदा प्रबंधन के लिए चुनौती बढ़ जायेगी इसलिए हमें विकास कार्यों की योजनायें बनाते समय ही इन बातों को ध्यान में रखना होगा।”

उन्होंने कहा कि हवाई अड्डे, स्कूल, काॅलेज, अस्पताल, पुल, सड़कें और इमारतें बनाते वक़्त ही आपदा प्रबंधन की दृष्टि से सुरक्षा के उपाय करने होंगे और निर्माण कार्यों में गुणवत्ता तथा मानकों का ख्याल रखना होगा।

Related Posts: