करैरा,   करैरा थाना क्षेत्र में साहू समाज की धर्मशाला में बीते रोज एक विवाह समारोह में बारात आ चुकी थी, जय माला का कार्यक्रम संपन्न हो चुका था और फेरों की तैयारियां चल रहीं थी तभी दूल्हे ने अचानक फेरे लेने के पूर्व 10 लाख रूपए की मांग कर दी और वधू पक्ष से कहा कि यदि दहेज नहीं दिया तो वह विवाह नहीं करेगा।

समझाने बुझाने के बाद भी जब मामला नहीं सुलझा तो दुल्हन हेमलता साहू ने साहस का परिचय देते हुए दहेज के लालची दूल्हे सोहन साहू के साथ विवाह करने से इन्कार कर दिया। यहीं नहीं दुल्हन अपने पिता के साथ थाने पहुंची और फिर क्या था दूल्हा सोहन साहू पुत्र भागीरथ साहू, भाई नारायण साहू और भांजा हरी साहू को पुलिस ने त्वरितता का परिचय देते हुए गिरफ्तार कर लिया। करैरा में दुल्हन के साहस की सर्वत्र प्रशंसा हो रही है। प्राप्त जानकारी के अनुसार ग्राम बगेदरी के रहने वाले सोहन साहू का विवाह थाना चिरगांव उ.प्र. के अतबई गांव में रहने प्रागीलाल साहू की पुत्री हेमलता साहू के साथ तय हुआ था।

18 अप्रैल को विवाह की तारीख निश्चित थी और वर पक्ष उ.प्र. से करैरा आ गए थे। वधू पक्ष ने अपनी सामर्थ के अनुसार वर पक्ष का जोरदार स्वागत किया। वर माला तक की रस्म शांति पूर्वक संपन्न हो गई। लेकिन जैसे ही फेरों के लिए वर और वधू मंडप के नीचे पहुंचे अचानक वर सोहन साहू ने दहेज में 10 लाख रूपए की मांग कर डाली। जिसकी पूर्ति करना वधू पक्ष के लिए संभव नहीं था। जब वधू पक्ष ने दहेज की इतनी बड़ी राशि को देने में असमर्थता व्यक्त की तो दूल्हा ने विवाह करने से इन्कार कर दिया. किसी तरह रिश्तेदार वर को समझा बुझाकर वापस लाये और उन्होंने दोनों पक्षों के बीच सुलह एवं मध्यस्थता कराने की कोशिश की, लेकिन वर सोहन अपनी बात पर अड़ा रहा।

अभी तक चुप बैठी दुल्हन हेमलता अचानक वीरांगना की भांति उठी और उसने दो टूक निर्णय सुना दिया कि लालची दूल्हे के साथ वह स्वयं शादी करने को तैयार नहीं है तथा वह इस तरह के लालची लोगों से किसी भी तरह का रिश्ता नहीं रखना चाहती। आज सुबह अपने पिता के साथ दुल्हन थाने पहुंची जहां आरोपियों के खिलाफ उसने लिखित शिकायत की इस पर से पुलिस ने दूल्हा सोहन उसका भाई नारायण व भांजा हरी के खिलाफ दहेज प्रतिषेध अधिनियम के तहत प्रकरण पंजीबद्ध कर आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया।

Related Posts:

गरीबों से मजाक पर प्रदेश में भी आक्रोश
मध्यप्रदेश में पूंजी निवेश का बेहतर वातावरण
केंद्र सरकार चलाएगी 700 से ज्यादा निशुल्क शैक्षणिक कार्यक्रम : स्मृति इरानी
जेएनयू मामले पर दो गुटों में तकरार, पथराव, फायरिंग, लाठीचार्ज
सिंहस्थ के सानंद संपन्न होने पर शिवराज ने दिया सभी को धन्यवाद
कटनी में एसपी के पक्ष में आंदोलन जारी, कांग्रेसियों ने दी गिरफ्तारियां