बैरागढ़, 18 अक्टूबर, सं. संत हिदाराम नगर की पूज्य सिंधी पंचायत द्वारा उपनगर की विभिन्न समस्याओं व विकास कार्यों को हल कराए जानें के लिए एक दिवसीय उपवास कार्यक्रम रखा था जो राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की प्रतिमा के समक्ष सामूहिक उपवास प्रारंभ किया गया.

पूज्य सिंधी पंचायत के पदाधिकारियों द्वारा विभिन्न समस्यों को हल किए जाने को लेकर उपवास कार्यक्रम राखा गया था. जिसमें अस्पताल का नामकरण, ओव्हर ब्रिज व अण्डर ब्रिज यातायात की समस्या उपनगर का नाम संत हिरदाराम नगर जैसे मांग रखी गई थी. उपवास स्थल पर पहुच विधायक डागा ने पदाधिकारियों को जूस पिला कर उपवास तुड़वाया. और कहा कि वे अपन निधी से चारों वार्डों में ढ़ाई-ढ़ाई लाख रुपए देने की घोषणा करते है जिससे विकास कार्य किया जा सके. पूज्य सिंधी पंचायत द्वारा विभिन्न समस्याओं को लेकर बैरागढ़ वृत्त के तहसीलदार को सौपा.

उपवास स्थल पर साबूमल रीझवानी, गुलाब जेठानी, परसराम असनानी, पूरणलाल पारदासानी, मधु चंदवानी, महेश खटवानी, मामा गोविन्दराम केवलानी, नरेश ज्ञानचंदानी नवीन बजाज, घनश्याम ललावानी, कैलास आसुदानी, कपडा़ एसोशिएशन के अध्यक्ष भैया सहित अन्य संस्थाओं के पदाधिकारी उपवास स्थल पर मौजूद थे. कई भाजपा के स्थानिय नेताओं ने बताया कि पूज्य सिंधी पंचायत का चुनाव आगामी दिसम्बर में होने जा रहा है. पंचायत चुनाव के पूर्व ही इस तरह के ज्ञापन उपावास रखती है. ताकि सरकार पर दबाव बनाया जा सके. उन्होंने इस तरह के उपवास को एक धकोसला करार दिया है. उल्लेखनिय रहे कि उपनगर की कई सड़के इन दिनों उखड़ी पड़ी है जिसकी तरफ न तो पार्षदों का ध्यान है और ना ही पूज्य सिंघी पंचायत का है. और अब जब सिंधी पंचायतों के चुनाव आने वाले है इसलिए वे समाज में अपना रूतबा दिखाकर अपनी वाह वाही लूटना चाहती है. जबकि उप नगर की कई जटिल समस्याएं अपना रूप धारण किए है. जिनको हल कराए जाने व कराने के लिए किसी को
फिक्र नहीं.

विकास कार्यों की समीक्षा आज
क्षेत्रिय विधायक जितेन्द्र डागा अपने निवास पर बैठक का आयोजन करने जा रहा है. जिसनें क्षेत्रिय सांसद जोशी सहित भाजपा नेता उपस्थित होगें. जिसमें की विकाश कार्याे की समीक्षा की जाएगी. जिसमें उपनगर की समस्या पर गंभीरता से विचार किया जाएगा. उल्लेखनीय है कि सांसद दरवार में विकाश कार्यो को लेकर काफी हंगामा हुआ था. उपनगर में सबसे बड़ी समस्या ब्रिज व ओव्हर ब्रिज की है जबकि उपनगर में कई सड़के इन दिनों पगडंडी बनी हुई है. जिस पर चलना भी दूभर हो गया है. उधर बताया जाता है कि डागा हाउस में होने वाली बैठक में कई अधिकारी मौजूद रहेंगे. लोगों की समस्या हल कराने के लिए जनप्रतिनिधी अधिकारियों को दिश निर्देश जारी करेंगे.

Related Posts: