धूमधाम से निकाली कलश यात्रा

बैरागढ 27 अप्रैल (संवाददाता) लालघाटी स्थित वल्लभ नगर दशहरा मैदान में 26 मई से 30 मई तक होने जा रहे 100 कुण्डीय श्री गणेश महालक्ष्मी महाकुण्ड का शुभारम्भ कलश यात्रा के साथ शुरु हुआ इस अवसर पर अनंत श्री विभूषित दण्डी स्वामी श्री मोहनांद सरस्वती जी महाराज के नेतृत्व में यज्ञ का शुभारम्भ किया गया. जो 26 मई से 30 मई तक चलेगा.

प्रथम चरण में भगवान आधिशंकराचार्य जयंती पर सामूहिक कलशो की महायात्रा, गणेश पूजन संकल्प महायोजन प्रारंभ दोपहर 1 बजे सम्पन हुई. 27 अप्रैल को श्रीमद भागवत पाठ सुबह छ: बजे से आठ बजे तक एवं महायज्ञ जबकि 8.30 बजे से 10.30 बजे तक श्रीमद जगद गुरुओ के प्रवचलन दोपहर 4 बजे से नीलम गायत्री जी झांसी व पं. पुरुषोत्तम दास पचोरी रामायण  द्वारा रामरस अमृत वर्षा प्रतिदिन होगी. चार स्थानो से गंगाजल भी यज्ञस्थल पर लाा जो कलश यात्रा के रुप में पहुंचा. महानर्मदा जल कलश वाहन महायात्रा, महाक्षिप्रा, मां पार्वती जल यात्रा, एवं महा गंगा एवं समुंद्र कलश यात्रा भी कल भोपाल पहुंची. कलश यात्रा यज्ञ स्थान से नेवरी वाले मंदिर से वापिस यज्ञ स्थल पहुंची जिसमें बडी संख्या में यज्ञकर्ता मौजूद थे. 100 कुण्डीय श्री गणेश महालक्ष्मी महायज्ञ में जगदगुरु शंकराचार्य ज्योतिपीठाधीश्वर, जगदगुरु शंकराचार्य, स्वामी हंसदोचार्य जी महाराज, स्वामी गोपालचार्च, स्वामी रामस्वरुपचार्य, आचार्य अविंदास महाराज,अलखगिरी महाराज एवं जगदगुरु रामानंदचार्य रामस्वरुप महाराज, देवेन्द्रनंद गिरी महाराज हरियाणा  स्वामी हंसदेवाचार्य  महाराज, केवलज्ञान पीडाश्वर आचार्य अविचलदास महाराज, यज्ञ मेें भाग लेने के लिए राजधानी पहुंचने वाले है. जो 26 से 30 मई तक कार्यक्रम में भाग लेगे. इसके बाद 30 मई को कृष्णकथा, प्रसाद वितरण एवं आशीर्वाद कार्य समापन होगा.

यज्ञ आयोजन समिति में कृष्णमोहन सोनी, पार्षद, विष्णु बसंल, सुशील वासवानी, गोपाल सोनी, कृष्णगोपाल, राम वर्मा, किशोर यादव, मोर सिंह मेवाडा, ओमप्रकाश, मनोहर, विनोद, रामबसंल शामिल किए गए. इसके अलावा यज्ञ के अंतिम दिन प्रसाद वितरण के लिए भोजन व्यवस्था के लिए समिति गठित की गई जिसका कार्य सुशील तिवारी, गोपाल, अरुण श्रीवास्तव, एवं एम.एल पाठक, रघुवंशी संभालेगे. वल्लभ नगर विजय नगर, लालघाटी दशहरा मैदान में विशाल यज्ञ पांडाल समपन्न कराने के लिए यज्ञ स्थल का निर्माण किया गया जिसका कार्य एक माह से किया जा रहा था. जहां नगर निगम के अलावा भी अन्य सुविधाएं मुहैया कराई गई है ताकि आने वाले भक्तो को परेशानी नहीं हो खाना भी यज्ञ समिति ने किया है.

Related Posts: