फेस्ट में 40 देशों की कंपनियां हुईं शामिल

नई दिल्ली,केंद्र सरकार और बाबा रामदेव की पतंजलि आयुर्वेद के बीच 10 हजार करोड़ रुपये का समझौता हुआ है. वल्र्ड फूड इंडिया 2017 के दौरान भारत सरकार और पतंजलि के बीच 10 हजार करोड़ रुपये का एमओयू शुक्रवार को साइन हुआ है. समझौते के दौरान केंद्रीय खाद्य प्रसंस्करण मंत्री हरसिमरत कौर बादल और पतंजलि के सीईओ आचार्य बालकृष्ण मौजूद थे.

इस फूड फेस्टिवल में केवल पतंजलि ही ऐसी भारतीय कंपनी है जिसे आमंत्रित किया गया है. फेस्ट में 40 देशों की कंपनियों को हिस्सा लेने के लिए आमंत्रित किया गया था. पतंजलि आयुर्वेद के फाउंडर बाबा रामदेव और बालकृष्ण ने इस साल मई में बताया था कि कंपनी का वित्त वर्ष 2016-17 में टर्नओवर 10,561 करोड़ रुपये था.

भारत सरकार ने पतंजलि के साथ उसके वार्षिक टर्नओवर जितने का एमओयू साइन किया है. इससे पहले भी कई राज्य सरकारें पतंजलि के साथ फूड पार्क के लिए जमीन उपलब्ध कराने जैसे समझौते कर चुकी हैं.

इस साल की शुरुआत में हरियाणा की बीजेपी सरकार ने औषधीय खेती के लिए पतंजलि के साथ 53 एकड़ जमीन की डील फाइनल की थी. पतंजलि 2017-18 वित्त वर्ष में 100 प्रतिशत ग्रोथ का अनुमान लेकर चल रही है.

Related Posts: