भोपाल,29 मई,लोक स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री डॉ. नरोत्तम मिश्रा ने कहा है कि 108 एम्बुलेंस ने मध्यप्रदेश में जरूरतमंदों के सहारे के सही विकल्प के रूप में अपनी पहचान बनाई है.

डॉ. मिश्रा आज यहाँ जीवीके ईएमआरआई द्वारा भोपाल में नियोनेटल एम्बुलेंस सुविधा के शुभारंभ कार्यक्रम को संबोधित कर रहे थे. नियोनेटल एम्बुलेंस में नवजात शिशुओं और संक्रमण वाले रोगियों के लिये अतिरिक्त देखभाल की व्यवस्था की गई है. मंत्री डॉ. मिश्रा ने कहा कि मुख्यमंत्री शिवराज सिंह की मंशा के अनुरूप हम प्रदेशवासियों को गुणवत्तापूर्ण स्वास्थ्य सेवाएँ देना चाहते हैं. अभी प्रदेश के 10 जिलों में 108 एम्बुलेंस की सुविधा उपलब्ध है. विष्य में इनके द्वारा और अच्छी सेवाएँ उपलब्ध करवाने की संभावना है. उन्होंने कहा कि 150 और वाहन 108 की सेवाओं को प्रदेश के शेष जिलों के लिये प्राप्त किये जाने की तैयारी है और शीघ्र ही ये वाहन प्राप्त हो जायेंगे.

मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. पंकज शुक्ला ने कहा कि जीवेकेईएमआरआई द्वारा किये जा रहे जन-हितैषी कार्य में अपने सीमित संसाधनों से सहयोग करेंगे. इससे रोगियों को भविष्य में और अच्छी उपचार सुविधाएँ मिल सकें. उल्लेखनीय है कि नियोनेटल एम्बुलेंस में नवजात शिशु केबिन विशेष रूप से बनाया गया है, जिससे वह बैक्टीरिया मुक्त होगी. एम्बुलेंस में कोलेप्सिवल बेड, अटेंडेंट सीट, स्पेशल प्लॉस्टिक मेडिकल स्टोरेज केबिनेट और सेंट्रल ऑक्सीजन लाइन सिस्टम है. एम्बुलेंस 108 में रोगी के लिये आवश्यक अन्य उपकरण एवं सुविधाएँ जैसे इन्क्यूवेटर यूनिट, पल्स ऑक्सीमीटर नियोनेटल प्रोब के साथ यूपीएस एन्क्यूवेटर को चलाने के लिये अलग से ऑक्सीजन सपोर्ट सिस्टम, बेबी पुनर्जीवन किट ‘अम्बू बैग केस’, ओवर हेड सीलिंग रेडियंट वार्मर आदि पहले से ही उपलब्ध हैं.

Related Posts: