भोपाल,16मार्च,नभासं.मध्यप्रदेश के गृह मंत्री ने आज विधानसभा में कहा कि इंदौर जिले के बेटमा में गत फरवरी में हुए सामूहिक बलात्कार की घटना के 16 आरोपियों को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है और शेष दो आरोपियों की तलाश जारी है.

गुप्ता ने कांग्रेस सदस्य तुलसीराम सिलावट क ी ध्यानाकर्षण सूचना का जवाब देते हुए बताया कि बेटमा में सामूहिक बलात्कार की पीडित युवती ने गत 18 फरवरी को घटना की रिपोर्ट की थी जिसपर पुलिस ने प्रकरण दर्ज किया था. पुलिस ने अभी तक इस मामले में 16 आरोपियो को गिरफ्तार कर न्यायिक हिरासत में भेजा है और शेष दो आरोपियों की तलाश कर रही है.

गृह मंत्री ने पीडित युवती द्वारा दर्ज कराई रिपोर्ट के अनुसार बताया कि बेटमा के कटकटपुरा में रहने वाला जावेद नामक युवक फोन पर धमकी देता था कि वे उससे प्यार करता है और वह उससे मिलने क्यों नही आती है. युवती ने मिलने से मना कर दिया तो जावेद ने धमकी दी कि वह उसके घर पर आकर जहर खाकर आत्महत्या कर लेगा और उसके परिजनों का मार डालेगा. इससे घबरा कर युवती 10 फरवरी को दोपहर में अपनी चचेरी बहन के साथ कालिका मंदिर के पास जावेद से मिलने गई.यहां दोनों युवती जावेद और उसके साथी टीपू से बात कर रही थी.इसी दौरान बेटमा का विकास भारती,चेतन कुमार दिलीप कुशवाह विक्रम मकवाना,गोलू वाघ,गोपाल पांचाल संजू ,रवि और दो तीन अन्य युवक आ गये.

जावेद और उक्त सभी युवक युवती और उसकी चचेरी बहन को जबरन खीचकर गेहू के खेत में ले गये और सभी ने बारी बारी से दोनों युवतियों के साथ बलात्कार किया और एक युवक ने इस दौरान मोबाइल पर फोटो भी खींच लिये. इसी दौरान पास के खेत से पूना भील, शांतिलाल,राजेन्द्र भामी और माना तम्बोली भी आ गये और इन्होंने ने बारी बारी से बलातकार किया तथा इसकी जानकारी किसी को दी तो उनके परिजनों को मार डालने की धमकी देकर चले गए.इसके बाद दोनों युवती घर चली गई और डर के कारण परिजनों को कुछ नही बताया.ज्यादा तकलीफ होने पर एक युवती ने अपनी मां और मामा को घटना की जानकारी देकर थाने में रिपोर्ट दर्ज कराई.

मेडिकल रिपोर्ट में दोनों युवतियों के साथ बलात्कार की पुष्टि हुई है. सिलावट ने आरोप लगाया कि इस मामले में स्थानीय पुलिस की भूमिका संदेहप्रद रही है. पुलिस ने दबाव के चलते पहले घटना पर पर्दा डालने का प्रयास किया.लेकिन मीडिया में मामला उछलने और युवती द्वारा रिपोर्ट करने पर पुलिस ने कार्यवाई की. इस मामले की एक पीडित युवती की अभी भी हालत गंभीर बनी हुई है.पुलिस अभी तक इस मामले के सभी आरोपियों को गिरफ्तार नही कर सकी है.

Related Posts: