2G-spectrumनयी दिल्ली. केंद्रीय जांच ब्यूरो ने 2जी स्पेक्ट्रम प्रकरण में कथित हस्तक्षेप की घटना की जांच के लिये नई प्राथमिकी दर्ज करने की आज उच्चतम न्यायालय से अनुमति मांगी. इस मामले में मौजूदा आरोपी ने एक कंपनी के एक व्यक्ति विशेष की भूमिका पर पर्दा डालने का प्रयास किया था.

प्रधान न्यायाधीश एच एल दत्तू और न्यायमूर्ति अरुण मिश्र की खंडपीठ ने इस मामले को 30 अप्रैल के लिये सूचीबद्ध कर दिया है.