मुरैना, ग्वालियर, शिवपुरी में थी दहशत, मथुरा में किया अपहरण

नवभारत न्यूज मुरैना,

अंचल सहित राजस्थान एवं उत्तरप्रदेश में संगीन वारदातों को अंजाम देने वाले डकैत भारत गुर्जर को गिरफ्तार करने में पुलिस ने सफलता हासिल की है. उसकी गिरफ्तारी पर विभिन्न जिलों की पुलिस द्वारा 37 हजार रूपये का ईनाम घोषित किया गया था.

गिरफ्तारी का खुलासा मंगलवार को पुलिस कप्तान आदित्य प्रताप सिंह ने प्रेसवार्ता में किया. उनके साथ एएसपी अनुराग सुजानिया सहित डकैत भारत सिंह को गिरफ्तारी करने वाली टीम के सदस्य मौजूद थे.

पुलिस अधिकारियों के अनुसार जरिए मुखबिर सूचना मिली कि अंर्तराज्यीय डकैत भारत सिंह गुर्जर पुत्र सीताराम सिंह नि. जरेरुआ, हाल ललिता का पुरा पहाड़ी बानमोर शहर की श्यामबिहार कॉलोनी के पीछे वारदात को अंजाम देने पहुंचनें वाला है. सूचना के आधार पर पुलिस टीमों ने दविश देकर बताए गए स्थान से डकैत भारत को पुलिस ने दबोच लिया.

उसके पास से पुलिस ने 12 बोर बंदूक बरामद की है. गिरफ्तार करने वाली टीम में टीआई कोतवाली योगेन्द्र सिंह जादौन, एसओ रिठौरा दीपेन्द्र ङ्क्षसह यादव, एसओ सिहौनिया शिवप्रताप सिंह शामिल थे.

मथुरा में अपहरण कर वसूली थी 25 लाख फिरौती

पुलिस अधिकारियों ने बताया कि डकैत भारत सिंह ने मथुरा रिफाईनरी क्षेत्र से एक मारवाढ़ी सेठ का अपहरण किया था. जिसे 25 लाख रूपये की फिरौती लेकर छोड़ा गया था.

मुरैना से मथुरा तक था आतंक 

डकैत भारत सिंह द्वारा शिवपुरी, ग्वालियर, मुरैना, श्योपुर जिलों में हत्या, हत्या के प्रयास, लूट, डकैती की कई वारदातों को अंजाम दिया गया था. उसके विरुद्ध मुरैना के विभिन्न थानों में आठ मामले दर्ज है. इसके साथ ही ग्वालियर के थानों में पांच मामले दर्ज है. जिनमें हत्या का एक, हत्या के प्रयास के पांच, डकैती अधिनियम के आधा दर्जन और टेरर टैक्स वसूले जाने के मामले शामिल है.

जंगल में वसूलता था टेरर टैक्स

पुलिस अधिकारियों ने बताया कि श्योपुर, शिवपुरी और मुरैना जिले के जंगलों में चलने वाले ट्रेक्टरों, पत्थर खदानों से डकैत भारत द्वारा टेरर टैक्स की वसूली की जाती थी. यही नहीं उसके द्वारा बांधों पर मछली ठेकेदारों से भी गुण्डा टैक्स वसूला जाता था.

Related Posts: