29smart cityभोपाल,29 अप्रैल,नभासं. राज्य के चार बड़े नगरों भोपाल, इंदौर, जबलपुर और ग्वालियर को स्मार्ट सिटी के तौर पर विकसित किया जाएगा. केंद्रीय मंत्रिमंड़ल ने बुधवार को देश भर के जिन सौ शहरों को स्र्मा के तौर पर मंजूरी दी है. उनमें राज्य के इन्हीं चार जिलों को शरीक किया गया है.

राज्य सरकार की ओर से भी इन्हीं चार जिलों को स्मार्ट सिटी में विकसित करने का प्रस्ताव केंद्र के शहरी विकास मंत्रालय को भेजा गया था. इसके लिए शहर की 10 लाख आबादी और उसके ऐतिहासिक महत्व के कारणों को प्रमुख आधार बनाया गया था.

क्या है स्मार्ट सिटी
अभी स्मार्ट सिटी बनाने की जो बातें सामने आ रही हैं,उसके मुताबिक इन्हें दो प्रकार से विकसित किया जाना है. जिसमें पहले कुछ पुराने शहरों को स्मार्ट सिटी में बदलना है,तो दूसरा पहले से विकसित शहरों के नजदीक ही पूरी तरह से नया शहर बसाकर उसे स्मार्ट सिटी का दर्जा देना है.

राजधानी में कहां बनेगी सिटी
राजधानी में स्मार्ट सिटी भोपाल से सीहोर के रास्ते पर बसाए जाने की कवायद की जा रही है. इसके लिए सर्वे का काम किया जा रहा है. पहले फेस में राजधानी में जो भी सुविधाएं मौजूद हैं,उनका पूरा ब्यौरा बनाया जा रहा है. सबसे पहले भोपाल और फिर इंदौर में इसे बनाया जाना है.कमोबेश दोनों स्थानों के लिए सर्वे का काम साथ-साथ शुरु हो गया है.

Related Posts: