कोहरे ने थामी रफ्तार

नई दिल्ली,

नए साल पर दिल्ली और आसपास के इलाकों में छाए घने कोहरे के चलते न सिर्फ ट्रेनों की रफ्तार पर असर पड़ा बल्कि हवाई यातायात भी प्रभावित हुआ.

विजिबिलिटी 50 मीटर से भी कम हो गई. कोहरे के कारण 400 ट्रेनें देरी से गंतव्य तक पहुंचीं. ऐसे में काफी लोगों का नए साल का जश्न फीका पड़ गया. 300 उड़ानें भी प्रभावित हुई हैं. दिल्ली में न्यूनतम तापमान 5.7 डिग्री सेल्सियस पर आ गया जबकि अधिकतम तापमान 20 डिग्री सेल्सियस रेकॉर्ड किया गया. मौसम विभाग का कहना है कि दोनों ही आंकड़े इस मौसम में सामान्य से नीचे है.

रेलवे के आधिकारिक डेटा के अनुसार, 31 दिसंबर की मध्यरात्रि में कोहरे के कारण देरी से चलने के कारण 400 मेल व एक्सप्रेस ट्रेनें अपने गंतव्य तक विलंब से पहुंचीं. सोमवार सुबह 6.30 बजे 56 ट्रेनें देरी से पहुंचीं और 20 को दोबारा शेड्यूल किया गया जबकि 15 ट्रेनों को रद्द कर दिया गया.

पटना राजधानी एक्सप्रेस, पूर्वा एक्सप्रेस समेत कई ट्रेनें 12 घंटे लेट थीं. जबकि रीवा एक्सप्रेस और मगध एक्सप्रेस तय शेड्यूल से 11 घंटे पीछे चल रही थीं. कोहरे का असर हवाई यातायात पर भी पड़ा है. आईजीआई एयरपोर्ट पर दृश्यता काफी कम होने के कारण 300 से ज्यादा उड़ानों में देर हुई और 8 को रद्द करना पड़ा.

दिल्ली में महाजाम

नए साल के पहले दिन घूमने-फिरने और पार्टी करने घरों से बाहर निकले लोगों के कारण राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में कई जगहों पर शाम को भारी जाम लग गया. इंडिया गेट के पास तिलक मार्ग पर शाम 5 बजे से गाडिय़ों की लंबी कतारें देखी गईं.

दिल्ली पुलिस ने एक बयान में कहा है कि इंडिया गेट के आस-पास बड़ी तादाद में गाडिय़ां मौजूद हैं. पास में कोई भी पार्किंग की सुविधा उपलब्ध नहीं है. ऐसे में लोगों को सलाह दी गई है कि वे इंडिया गेट के आस-पास जाने से बचें और किसी दूसरे वैकल्पिक मार्ग से आगे का सफर करें.