भोपाल, 14 अप्रैल. वित्तीय वर्ष 2011-12 में भोपाल मंडल ने 885 करोड़ रुपए की आय अर्जित की है. इस वित्तीय वर्ष में भी प्राप्त लक्ष्य को पूरा करने का हर सम्भव प्रयास करेंगे.

यह उद्गार रेल मंडल के प्रबंधक घनश्याम सिंह ने 57वें रेल सप्ताह के कार्यक्रम के अवसर पर मण्डल रेल प्रबंधक कार्यालय के प्रांगण में आयोजित एक भव्य समारोह में व्यक्त किये. इस अवसर पर वित्तीय वर्ष 2011-12 में उत्कृष्ठ कार्य निष्पादन एवं उल्लेखनिय सेवा के लिये डीआरएम घनश्याम सिंह ने 263 कर्मचारियों को व्यक्तिगत पुरस्कार से तथा 199 कर्मचारियों को सामूहिक पुरस्कार से सम्मानित किया. रेलवे विद्यालय इटारसी द्वारा सांस्कृतिक कार्यक्रम प्रस्तुत किये गये. समारोह को संबोधित करते हुए सिंह ने कहा कि भारतीय रेल्वे ने 159 गौरवशाली वर्ष पूर्ण कर लिये है.

जिसकी विकास गाथा काफी लम्बी है. पुरस्कृत कर्मचारियों को बधाई देते हुए सिह ने कहा कि जिन कर्मचारियों को पुरस्कार नहीं मिल पाया है, उनका भी इसमें योगदान है. मैं आशा करता हूं कि वे अगले वित्तीय वर्ष में इससे वेहतर कार्य निष्पादन करके पुरस्कार प्राप्त करेंगे. सिंह ने आगे कहा कि भोपाल मंडल द्वारा भारतीय रेल में पहली बार खण्ड के सभी स्टेशनों पर 5 किलो वाट के सौर ऊर्जा पैनल लगाये गये है. जिससे स्टेशनों में प्रकाश व्यवस्था के साथ-साथ सिगनल प्रणाली का संचालन भी किया जा रहा है. इससे विद्युत ऊर्जा की उपलब्धता की कमी को दूर करने के साथ-साथ एक बड़ी राशि की बचत हो रही है. साथ ही पर्यावरण की दृष्टि से भी अत्याधिक महत्वपूर्ण है. गुना-ग्वालियर रेल खंड में आप्टिकल फायबर केबल पर आधारित टोकनलैस ब्लाक उपकरण लगाये गये है. जिससे गाडिय़ों के संचालन में सुरक्षा एवं परिचालन समय पर सुधार हुआ है. इसी प्रकार हबीब गंज स्टेशन पर पेपर लैस चार्ट डिस्प्ले सिस्टम लगाया गया है.

इसके पूर्व स्वागत भाषण देते हुए वरिष्ठ मण्डल कार्मिक अधिकारी चन्द्रशेखर द्विवेदी ने सभी अतिथियों का स्वागत करते हुए रेल सप्ताह मनाने के औचित्य पर प्रकाश डाला तथा भरोसा दिलया कि आने वाले वर्षो में हमारे रेल कर्मचारी और अधिक मेहनत व लगन से कार्य करके अपने मण्डल का नाम पूरे भारतीय रेल में रोशन करेंगे. अपर मण्डल रेल प्रबंधक अजय कुमार गुप्ता ने अपने उद्बोधन में पुरस्कृत रेल कर्मचारियों को बधाई दी. चलती रेलगाडिय़ों में पिलाई जायेगी पल्स पोलियो की खुराक 15 अप्रैल से 17 अप्रैल तक आयोजित पल्स पोलियो अभियान में भोपाल रेल मंडल ने सक्रिय भूमिका निभाने के लिये एक बार पुन: व्यापक प्रबंध किए है. भोपाल के अलाव छोटे स्टेशनों पर पल्स पोलियो की दवाई पिलाये जाने की व्यवस्था की गई है. इसके लिये 52 पल्स पोलियो बूथों का गठन किया है.

मुख्य चिकित्सा अधीक्षक डॉ. के के तिवारी से प्राप्त जानकारी के अनुसार मोबाइल बूथों द्वारा बीना की ओर जाने वाली झेलम एक्सप्रेस, पंजाब मेल, छत्तीसगढ़ एक्सप्रेस, सोमनाथ व इटारसी की ओर जाने वाली कर्नाटक एक्सप्रेस, कामायनी एक्सप्रेस व उज्जैन की ओर जाने वाली मालवा एक्सप्रेस, में मोबाइल टीम द्वारा चलती गाडिय़ों में पल्स पोलियो की दवा पिलाई जायेगी. इसके साथ ही इटारसी, गंजबासौदा, बीना एवं गुना, रेल्वे स्टेशनों के प्रत्येक प्लेट फार्म पर रेलवे स्वास्थ्य केन्द्रों में एवं रेलवे कालोनियों में पोलियो की दवा पिलाने के लिये पल्स पोलियो के निरोधक दस्ते का गठन किया गया है.

Related Posts: