parrikarनयी दिल्ली, देश रक्षा उत्पादन के मामले में 70 प्रतिशत आत्मनिर्भरता हासिल करने को अग्रसर है तथा रक्षा खरीद में स्वदेशी उपकरणों की हिस्सेदारी 64 प्रतिशत तक पहुंच गयी है।

रक्षा मंत्री मनोहर पार्रिकर ने लोकसभा में प्रश्नकाल में एक सवाल के जवाब में कहा कि रक्षा उत्पादन में सौ प्रतिशत आत्मनिर्भरता व्यावहारिक नहीं है। सत्तर फीसदी आत्मनिर्भरता अधिकतम व्यावहारिक है।

उन्होंने बताया कि सरकार ने रक्षा क्षेत्र में विदेशी निवेश के साथ-साथ मेक इन इंडिया को बढ़ावा देने के लिए दो प्रकार की योजनाएं बनायीं है जिनके सकारात्मक परिणाम आ रहे हैं।

श्री पार्रिकर ने बताया कि विगत तीन साल में विदेशों से रक्षा उत्पादों की खरीद 52 प्रतिशत से घटकर करीब 36 प्रतिशत रह गयी है जबकि स्वदेशी खरीद का अनुपात 46 प्रतिशत से बढ़कर लगभग 64 प्रतिशत हो गया है।

उन्होंने बताया कि रक्षा उत्पादन में मेक इन इंडिया के तहत लघु एवं मध्यम उद्योगों को बढ़ावा देने की योजना है।

Related Posts:

पूरे विश्व के लिए अच्छा है भारत व चीन का विकास
महागठबंधन से टूटी सपा, बिहार में अकेले लड़ेगी चुनाव
भारत और पाकिस्तान के विदेश सचिवों की मुलाकात कल
भ्रष्टाचार के मामले में कांग्रेस और भाजपा में मिलीभगत : केजरीवाल
किरण बेदी पुड्डुचेरी की उपराज्यपाल नियुक्त
चेक बाउंस मामले में माल्या के खिलाफ गैर जमानती वारंट