परवलिया टोल प्लाजा के पास बोरे में बंद मिली लाश

नवभारत न्यूज भोपाल,

परवलिया टोल प्लाजा के पास आठ साल के मासूम की बोरे में बंद लाश मिलने से सनसनी फैल गई. पुलिस ने बच्चे की पहचान बैरागढ़ निवासी परशुराम के पुत्र के रूप में की है.

प्राप्त जानकारी के मुताबक कार्तिक नामक यह बच्चा सोमवार को अपनी बहन कनक के साथ क्राइस्ट स्कूल बैरागढ़ पढऩे आया था. पिता परशुराम ने बच्चों के स्कूल आने-जाने के लिये आटो लगा रखा था.सोमवार को जब बहन अकेले घर पहुंची तो परिजन घबरा गये. उन्होंने पुलिस को भी शिकायत की.

इस बीच किसी राहगीर ने पुलिस को जानकारी दी कि परवलिया सड़क पर बोरे में कुछ संदिग्ध नजर आ रहा है. पुलिस तत्काल मौके पर पहुंची, जहां बोरे में लापता कार्तिक की लाश थी एवं स्पष्टï नजर आ रहा था कि उसका गला घोंटा गया है.

इसके बाद तो बैरागढ़ में अफरा-तफरी मच गई और परशुराम के रिश्तेदार व मित्र बैरागढ़ थाने में हंगामा करने लगे. मृतक के पिता का कहना है कि दो दिन पहले ही उसने पुलिस को शिकायत दी थी कि बच्चों को ट्यूशन पढ़ाने वाला विशाल रूपानी उन्हें धमकी देकर गया था. इसके बाद भी पुलिस ने कोई कार्यवाही नहीं की.

यदि उस समय पुलिस कार्यवाही करती तो शायद बच्चे की जान नहीं जाती. फिलहाल पुलिस आटो चालक परमानंद की तलाश कर रही है, जो सोमवार को सिर्फ मासूम की बहन कनक को लेकर घर पहुंचा था.

स्कूल की भूमिका पर सवाल

कार्तिक के माता-पिता ने स्कूल की भूमिका पर भी सवाल उठाया है. उनका कहना है कि स्कूल से बच्चा लापता हो गया एवं प्रबंधन को जानकारी भी नहीं मिली या फिर अज्ञात व्यक्ति के हवाले स्कूल प्रबंधन ने बच्चे को कैसे कर दिया.

Related Posts: