टाइम की रिपोर्ट के बाद भाजपा ने साधा निशाना

नयी दिल्ली, 9 जुलाई, नससे. टाइम पत्रिका में प्रधानमंत्री के बारे में छपे लेख को लेकर भाजपा ने आक्रामक रूख अख्तियार करते हुए कहा कि देश और दुनिया दोनों मान चुके हैं कि प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह के नौ साल के शासन में देश की छवि अर्थव्यवस्थाए विकास और साख सबको बट्टा लगा है इसलिए उन्हें अब अपने पद से हट जाना चाहिए.

पार्टी प्रवक्ता रविशंकर प्रसाद ने अमेरिका की टाइम पत्रिका में सिंह के बारे में छपे आलोचनात्मक लेख के संदर्भ में यहां कहा जो देश बोल रहा था आज वही दुनिया भी बोल रही है कि प्रधानमंत्री के रूप में मनमोहन सिंह के चलते देश को बहुत बड़ी कीमत चुकानी पड़ रही है. उन्होंने कहा कि अंतरराष्ट्रीय नेताओं की प्रंशसाएं करके और बदले में उनसे अपने लिए प्रमाण पत्र पाने की अच्छी मार्केटिंग से मनमोहन सिंह अपना असली मोल नहीं छिपा सकते हैं. यह पूछे जाने पर कि सिंह को क्या प्रधानमंत्री पद से हट जाना चाहिए उन्होंने कहा हम तो बहुत पहले से यह मांग करते आ रहे हैं. सिंह को अब खुद आत्मावलोकन करना चाहिए.

टाइम पत्रिका के एशिया अंक के कवर पेज पर प्रकाशित 79 वर्षीय मनमोहन की तस्वीर के ऊपर शीर्षक छपा है उम्मीद से कम सफल भारत को चाहिये नई शुरुआत. अगले सप्ताह बाजार में आने वाले इस अंक में कहा गया है कि सुधारों पर सख्ती से आगे बढऩे के अनिच्छुक लगते हैं मनमोहन सिंह. प्रसाद ने कहा कि दिलचस्प बात यह है कि ये वही टाइम पत्रिका है जिसने तीन साल पहले दुनिया के 100०० सबसे ताकतवर लोगों में मनमोहन सिंह को 19वें स्थान पर रखा था.

उन्होंने दावा किया कि सिंह की अच्छी मार्केटिंग के चलते पूर्व में इस पत्रिका ने उनकी प्रशंसा की थी. मनमोहन सिंह के नौ साल के शासन को देश के लिए नुकसानदेह बताते हुए उन्होंने कहा इस दौरान देश ने विकास रोजगार और राजस्व तो गंवाया ही साथ ही दुनिया में भारत की छवि को भी गहरा बट्टा लगा है. भ्रष्टाचार के लिए भी मनमोहन शासन को जिम्मेदार बताते हुए उन्होंने कहा यह आजादी के बाद की सबसे भ्रष्ट सरकार है. यह बहुत ही स्तब्धकारी बात है कि आज भारत को दुनिया के सबसे भ्रष्ट देशों में गिना जाता है. भाजपा प्रवक्ता ने कहा कि सिंह के नौ साल के शासन में भारत असहाय असुरक्षित और अशक्त बना है.

भाजपा की टिप्पणी अरुचिकर : चिदंबरम

नयी दिल्ली, नससे. प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह के प्रदर्शन को लेकर भाजपा की आलोचना को अरुचिकर बताते हुए सरकार ने आज विश्वास जताया कि देश मौजूदा आर्थिक समस्याओं से उबरकर ऊंची विकास दर के रास्ते पर लौट आएगा.

देश के आर्थिक हालात पर टाइम पत्रिका में छपे लेख पर प्रतिक्रिया देते हुए केन्द्रीय गृह मंत्री पी चिदंबरम ने कहा कि संप्रग-2 को यकीन है कि देश मौजूदा आर्थिक स्थिति से उबर जाएगा.  उन्होंने कहा कि वह लेख क्या कहता है. उसमें संप्रग-1 के समय हासिल उल्लेखनीय उपलब्ध्यि का स्मरण कराया गया है और उसके बाद कहा गया है कि संप्रग-2 में क्या प्रधानमंत्री हालात को बेहतर कर सकते हैं. जवाब है स्वाभाविक तौर पर वह प्रधानमंत्री ऐसा कर पाएंगे. हमें यकीन है कि हम इस संकट से बाहर आएंगे और ऊंचे विकास के रास्ते पर लौटेंगे. टाइम पत्रिका के लेख का यही जवाब है.

टाइम पत्रिका द्वारा प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह को उम्मीद से कम सफल बताये जाने पर भाजपा की टिप्पणी पर चिदंबरम ने कहा कि यह बहुत ही अरुचिपूर्ण टिप्पणी है. भाजपा द्वारा सिंह का इस्तीफा मांगने के बारे में पूछने पर चिदंबरम ने कहा कि मुख्य विपक्षी पार्टी की टिप्पणी काफी तकलीफदेह है. मुझे अचरज है कि भाजपा प्रवक्ता रवि शंकर प्रसाद ने उस समय क्या कहा होगा जब उन्होंने जून 2००002 में तत्कालीन प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी के बारे में लेख पढ़ा था. गृह मंत्री ने कहा कि पत्रिका में जो कुछ भी कहा गया है उसके कुछ ज्यादा ही मतलब निकाल लिये गये हैं.

Related Posts: