नई दिल्ली, 25 सितंबर. बीजेपी अध्यक्ष नीतिन गडकरी ने 1947 के बाद से अबतक के कोल ब्लॉक आवंटन की जांच कराने की मांग की है। सीवीसी के एनडीए सरकार के दौरान आवंटित कोल ब्लॉक की जांच कराने के आदेश से भाजपा आग बबूला हो गई है।

 

बीजेपी यह बात नहीं पचा पा रही है कि 1993 से आवंटित कोल ब्लॉक की जांच क्यों कराई जा रही है।भाजपा अध्यक्ष नितिन गडकरी ने कहा है कि सरकार न्यायपालिका और सीबीआई की दुरूपयोग कर रही है। गडकरी ने कहा कि पार्टी किसी भी जांच को तैयार है। उन्होंने कांग्रेस को चुनौती दी कि वह 1947 से आवंटित कोल ब्लॉक की जांच करा ले। भाजपा अध्यक्ष ने कहा कि पार्टी के पास छुपाने के लिए कुछ भी नहीं है लेकिन सरकार विपक्ष को जबरन विवाद में घसीटना चाह रही है। गौरतलब है कि कोयला मंत्रालय ने सीवीसी को पत्र लिखकर एनडीए सरकार के दौरान आवंटित कोल ब्लॉक की जांच कराने की मांग की थी। कोयला मंत्रालय के पत्र पर कार्रवाई करते हुए सीवीसी ने सीबीआई को 1993 से आवंटित कोल ब्लॉक की जांच कराने का आदेश दिया।

Related Posts: