नई दिल्ली, 2 जनवरी. वित्त मंत्री प्रणव मुखर्जी ने सोमवार को कहा कि आम बजट इस बार पांच राज्यों  में घोषित विधानसभा चुनाव खत्म होने पर पेश किया जाएगा पर अभी इसकी तारीख तय नहीं है.

मुखर्जी ने सोमवार को दिल्ली में  बजट की तारीख के बारे में संवाददाताओं के सवाल पर कहा, ‘ हमने अभी तारीख तय नहीं की है. पर स्वभाविक तौर पर यह चुनावों के बाद ही होगा.’ उत्तर प्रदेश, उत्तराखंड, मणिपुर , पंजाब, गोवा, पांच राज्यों में 30 जनवरी से तीन मार्च के बीच होने वाले विधानसभा चुनावों की वजह से वित्त वर्ष 2012-13 के लिए पेश होने वाले बजट की तिथि को पुनर्निधारित किए जाने की संभावना है. अमूमन फरवरी के आखिरी कारोबारी दिन पर आम बजट लोक सभा में पेश किया जाता है. इस बार फरवरी 29 दिन की है पर इस बीच विधानसभा चुनाव कार्यक्रमों की घोषणा के बाद चुनाव आचार संहिता प्रभावी हो गयी है. चुनावा आयोग द्वारा घोषित कार्यक्रम के मुताबिक अंतिम चुनाव तीन मार्च को गोवा में सपन्न होगा और चार मार्च को मतों की गिनती शुरू होगी. मुखर्जी 11 जनवरी से बजट तैयारी पर विभिन्न संबंधित समूहों से बातचीत करना प्रारंभ करेंगे. संभावना है कि बजट पूर्व बैठक की शुरूआत किसानों के साथ की जाएगी. इसके बाद अगले दस दिन तक विभिन्न क्षेत्रों के विशेषज्ञों, प्रतिनिधियों, उद्योगपतियों और अर्थशास्त्रियों के साथ अगले वित्त वर्ष के बजट पर विचार-विमर्श किया जाएगा.

Related Posts: