लखनऊ,1 जून. उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने आज बसपा के हंगामे और बहिर्गमन के बीच 16वीं विधानसभा में वर्ष 2012-13 के लिए 200110. 61 लाख करोड़ रुपये का बजट पेश किया. इसमें किसी नए कर का प्रावधान नहीं किया गया है.

अखिलेश ने मौजूदा वित्त वर्ष में 1,94,847.28 करोड़ रुपये की राजस्व प्राप्तियां और 21,570.26 करोड़ रुपये के अनुमानित घाटे का बजट पेश किया. बजट में राजस्व समेत कुल 1,58,847.86 करोड़ रुपये की प्राप्तियां तथा 35,479.32 करोड़ रुपये की पूंजीगत प्राप्तियों का अनुमान है. सत्तारूढ़ समाजवादी पार्टी ने बजट में अपने विभिन्न चुनावी वादों को पूरा करने के लिए बेरोजगारी भत्ते के वास्ते 1100 करोड़ रुपये तथा हाईस्कूल एवं इंटरमीडियट पास करने वाले विद्यार्थियों को लैपटाप एवं टैबलेट कम्प्यूटर देने के लिए 2,721.24 करोड़ रुपये का प्रावधान किया है.

राज्य के इतिहास में पहली बार दो लाख करोड़ रुपये से ज्यादा का बजट पेश किया गया है. प्रदेश की पूर्ववर्ती मायावती सरकार के कार्यकाल में बंद की गई कन्या विद्याधन योजना को दोबारा शुरू करने का एलान करते हुए इसके लिए 446 करोड़ रुपये का प्रावधान किया गया है जबकि किसानों की कर्ज माफी के लिए 500 करोड़ रुपये का अलग प्रावधान भी किया गया है.

Related Posts: