कराची, 17 जुलाई. पाकिस्तानी क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान और हरफनमौला खिलाड़ी शाहिद अफरीदी ने भारत-पाक श्रृंखला को ऑस्ट्रेलिया और इंग्लंड की टीमों के साथ खेली जाने वाली एशेज श्रृंखला से तुलना की है. अफरीदी ने कहा है कि भारत और पाकिस्तान की टीमों के बीच होने वाली श्रृंखला एशेज से भी बड़ी है.

पाकिस्तानी खिलाडिय़ों ने दिसम्बर-जनवरी में भारत में तीन एकदिवसीय और दो ट्वेंटी-20 अंतर्राष्ट्रीय मैचों की श्रृंखला खेलने का स्वागत किया है. भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) की कार्यकारी समिति ने दोनों देशों के बीच तीन एकदिवसीय और दो ट्वेंटी-20 अंतर्राष्ट्रीय मैचों की श्रृंखला खेले जाने की मंजूरी सोमवार को दी. समाचार पत्र ने अफरीदी के हवाले से लिखा है कि पाकिस्तान और भारत के बीच खेली जाने वाली श्रृंखला की लोकप्रियता ऑस्ट्रेलिया और इंग्लैंड के बीच खेली जाने वाली एशेज श्रृंखला से अधिक है.

पाकिस्तान और भारत के बीच खेले जाने वाले मुकाबलों को व्यापक रुप से पालन किया जाता है और समूचे विश्व के लोग उनके मैच में रूचि रखते हैं. भारत-पाक के बीच आखिरी द्विपक्षीय श्रृंखला नवम्बर, 2007 में हुई थी. उस समय भारतीय टीम ने 3-2 से श्रृंखला अपने नाम की थी. पत्र के मुताबिक अफरीदी ने कहा कि जब हम भारत के खिलाफ खेलते हैं तो दबाव होता है, लेकिन यह अधिक रोमांचक भी होता है. उल्लेखनीय है कि 26 नवम्बर, 2008 को मुम्बई पर हुए आतंकवादी हमले के बाद भारत ने पाकिस्तान से द्विपक्षीय क्रिकेट रिश्ते खत्म कर लिए थे.

बहिष्कार कर सकते हैं श्रीलंकाई खिलाड़ी

कोलंबो. श्रीलंकाई कप्तान माहेला जयवर्धने ने धमकी दी है कि क्रिकेट श्रीलंका यदि केन्द्रीय अनुबंध मुद्दे का समाधान नहीं ढूंढ़ लेता है तो वह और उनके साथी खिलाड़ी अगले माह होने वाले श्रीलंका प्रीमियर लीग क्रिकेट टूर्नामेंट का बहिष्कार कर सकते हैं.

जयवर्धने ने श्रीलंका के बहुप्रतीक्षित ट्वेंटी-20 टूर्नामेंट के लांच के मौके पर ही यह धमाका करते हुए कहा कि हम एसएलपीएल के लिए करार पर तब तक दस्तखत नहीं करेंगे जब तक श्रीलंका के खिलाडिय़ों के अनुबंध विवाद का हल नहीं ढूंढ़ लिया जाता है. उन्होंने कहा कि हमने एक माह पूर्व बात की थी. तक पाकिस्तानी टीम श्रीलंका आयी भी नहीं थी. मुझे अब भी उम्मीद है कि हम अगले कुछ दिनों के अंदर इस समस्या का समाधान ढूंढ़ सकते हैं.

क्रिकेट श्रीलंका ने एसएलपीएल के लिए 107 देशी और 56 विदेशी खिलाडिय़ों की सूची जारी की है जिसमें जयवर्धने को वायम्बा इलेवन के साथ रखा गया है. श्रीलंकाई खिलाडिय़ों को समय से वेतन भत्ते नहीं मिलने का विवाद गत वर्ष विश्व कप के समय से चला आ रहा है जिसका कुछ माह पहले निपटारा होने के बाद अनुबंध विवाद ने जोर पकड़ लिया है.

Related Posts: