• मध्यप्रदेश स्थापना दिवस का होगा भव्य आयोजन

भोपाल,31 अक्टूबर. मध्यप्रदेश स्थापना दिवस के अवसर पर भोपाल शहर का लाल परेड ग्राउण्ड आज कई भव्य आयोजनों का साक्षी बनेगा. पूरा मैदान दूधिया रोशनी के साथ ही आतिशबाजी के आकर्षक रंगों से अपनी अलग ही छटा बिखेरेगा. संस्कृति मंत्री लक्ष्मीकांत शर्मा ने समारोह की तैयारियों का लगातार मुआयना कर कार्यक्रम को भव्य बनाने का प्रयास किया है.

समारोह का शुभारंभ शाम 6 बजे मध्यप्रदेश गान के साथ होगा. इसके बाद पारम्परिक नृत्यों की प्रस्तुतियाँ होंगी. शानदार लेजर-शो के माध्यम से नारी की सर्जना और सामर्थ्य को प्रस्तुत किया जाएगा. कॉमन वेल्थ खेलों और चीन में हुए ओलंपिक खेलों में आतिशबाजी करने वाले मोरानी ब्रदर्स द्वारा रंगारंग आतिशबाजी की जाएगी. सुश्री आशा भोंसले सोमवार को शाम तक भोपाल पहुँच जाएँगी. सुश्री हेमा मालिनी मंगलवार की सुबह आएँगी. समारोह में प्रवेश नि:शुल्क है. वी.आई.पी. मार्ग सहित नगर के अन्य चौराहों को सजाया गया है.

स्वयंसेवी संगठनों ने भी अनेक चौराहों पर साज-सज्जा की है. स्थापना दिवस के मौके पर सभी शासकीय भवनों पर रोशनी की गयी है. लाल परेड पर आयोजित सांस्कृतिक समारोह में शासकीय कर्मचारियों की उपस्थिति सुविधाजनक बनाने के लिए समय से एक घन्टे पूर्व शासकीय कार्यालय बन्द हो जाएंगे. पूरे प्रदेश में जिला, विकासखण्ड और ग्राम पंचायत स्तर पर स्थापना दिवस समारोह मनाए जाएंगे. राजधानी भोपाल में स्थापना दिवस का पहला कार्यक्रम प्रात: 10.30 बजे मंत्रालय के पास उद्यान में रखा गया है. मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान कार्यक्रम में शासकीय कर्मचारियों को संकल्प दिलाएंगे.

  •  राज्यपाल होंगे मुख्य अतिथि

समारोह में मुख्य अतिथि राज्यपाल रामनरेश यादव होंगे. मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान कार्यक्रम की अध्यक्षता करेंगे. राज्यसभा सदस्य और प्रदेश भाजपा के अध्यक्ष प्रभात झा, नगरीय प्रशासन एवं विकास मंत्री बाबूलाल गौर, संस्कृति मंत्री लक्ष्मीकान्त शर्मा, गृह मंत्री उमाशंकर गुप्ता, महापौर कृष्णा गौर स्थानीय विधायक, पूर्व मुख्यमंत्री सुन्दरलाल पटवा विशिष्ट अतिथि के रूप में उपस्थित रहेंगे. समारोह में प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष कांतिलाल भूरिया और नेता प्रतिपक्ष अजय सिंह को भी आमंत्रित किया गया है.

  •  मुख्य आकर्षण

समारोह की थीम ‘बेटी’ है. समारोह में नारी की सर्जना और सामर्थ्य को केन्द्र में रखकर ही कार्यक्रम प्रस्तुत किये जायेंगे. मंच का स्वरूप भी महारानी अहिल्या देवी होल्कर द्वारा महेश्वर में बनवाये गये मंदिरों और महलों पर केन्द्रित होगा.

संस्कृति मंत्री शर्मा ने बताया कि समारोह के शुभारंभ में 800 नर्तकों द्वारा मध्यप्रदेश की नदियों के आसपास पल्लवित संस्कृतियों पर आधारित सांस्कृतिक प्रस्तुति ”शुभ्रा” का मंचन होगा. शुभ्रा का निर्देशन मैत्रेयी पहाड़ी द्वारा किया जाएगा. इसके बाद आप्टिकल 3-डी लेजर-शो के माध्यम से नारी की सर्जना और सामर्थ्य को प्रस्तुत किया जाएगा. शीर्षस्थ कलाकार हेमामालिनी द्वारा निर्देशित नृत्य-नाटिका ‘दुर्गा’ की प्रस्तुति के बाद आकर्षक आतिशबाजी और फिर अंत में सुश्री आशा भोंसले एवं साथियों की सांगीतिक प्रस्तुति समारोह के मुख्य आकर्षण रहेंगे. कार्यक्रम का संचालन हरीश भिमानी, दिव्या दत्ता एवं सुनील वैद्य द्वारा किया जाएगा.

  •  पार्किंग व्यवस्था

मध्यप्रदेश स्थापना दिवस एक नवंबर के अवसर पर लाल परेड ग्राउंड पर सांस्कृतिक कार्यक्रम का आयोजन किया जा रहा है, जिसके दौरान यातायात व्यवस्था निम्नानुसार रहेगी:-
ऐसे वाहन जिन्हें लाल रंग के कार पास जारी किये गये हैं, वे लाल परेड ग्राउंड कार्यक्र मंच के पीछे के भाग/एसबीआई बैंक गेट के सामने वाले गेट से प्रवेश दिया जायेगा एवं निर्धारित किये गये स्थान पर अपने वाहन पार्क करेंगे. नीले पासधारी वाहन जो गांधी पार्क की ओर से आवेंगे वे सत्कार द्वार से एवं जेल पहाड़ी की ओर से आने वाले वाहन आईटीआई गेट से प्रवेश कर सकेंगे एवं परेड मंच के पहले व्हालीबाल ग्राउंड/बैंड स्कूल/स्टेडियम के अंदर एवं आम बगिया में अपने वाहन पार्क कर सकेंगे.

अन्य पत्रकार/मीडिया के आमंत्रित पीले पासधारी अपने वाहन सत्कार द्वार एवं आईटीआई गेट से प्रवेश कर हॉर्स राइडिंग मैदान के अंदर दो पहिया वाहन एवं बाहर चार पहिया वाहन पार्क कर सकेंगे.

अन्य बिना पासधारी आमंत्रितगण जो रोशनपुरा गांधीपार्क की ओर से आ रहे हैं वे अपने वाहन एमव्हीएम कॉलेज ग्राउंड पुरानी विधानसभा के सामने अपने दो पहिया एवं चार पहिया वाहन पार्क कर पैदल विजय द्वार से प्रवेश कर सकेंगे. इसी तरह शब्बन चौराहा की ओर से आने वाले आमंत्रित अतिथिगण अपने दो पहिया/चार पहिया वाहन थाना जहांगीराबाद के सामने मैदान में पार्क कर पैदल विजय द्वार से प्रवेश कर सकेंगे.

  • डायवर्सन व्यवस्था-

भारत टॉकीज से पीएचक्यू होकर रोशनपुरा जाने वाले एवं रोशनपुरा से पीएचक्यू होकर भारत टॉकीज की ओर जाने वाले भारी वाहन मिनी बस, फीडर बस, लोङ्क्षडग वाहन एवं अन्य भारी वाहन पुल बोगदा, जिंसी, मैदा मिल, बोर्ड ऑफिस, लिंक रोड नंबर-1 से होकर आ-जा सकेंगे. लिलि टॉकीज गांधी पार्क के बीच कार्यक्रम में शामिल होने वालों के अतिरिक्त अन्य वाहनों का आवागमन प्रतिबंधित रहेगा.

अन्य छोटे वाहन जो गांधी पार्क से लिलि चौराहे की ओर जाना चाहते हैं वे मछलीघर, खटलापुरा, पीएचक्यू, तिराहा होते हुये आवागमन कर सकेंगे. इसके अतिरिक्त असुविधा से बचने के लिये न्यू मार्केट से पुराने भोपाल की ओर जाने वाले वाहन पॉलीटेक्निक चौराहा, कमला पार्क, गिन्नोरी, तलैया होकर आ-जा सकेंगे.

Related Posts: