चंडीगढ़/अंबाला, 19 अक्टूबर.
इंडियन नैशनल लोकदल (आईएनएलडी) ने हिसार लोकसभा उपचुनाव में कांग्रेस की जमानत जब्त होने और सभी हलकों में कांग्रेस प्रत्याशी के तीसरे स्थान पर रहने को जनता का कांग्रेस के खिलाफ फतवा बताते हुए मुख्यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्डा से तुरंत इस्तीफा देने की मांग की है। आईएनएलडी के सुप्रीमो और हरियाणा के पूर्व मुख्यमंत्री ओमप्रकाश चौटाला ने यह भी कहा कि हिसार में एचजेसी उम्मीदवार कुलदीप बिश्नोई की जीत से अन्ना हजारे को ज्यादा खुश नहीं होना चाहिए क्योंकि उनका असर इस चुनाव में नहीं पड़ा है।

चौटाला ने मंगलवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा कि हिसार से आईएनएलडी उम्मीदवार अजय चौटाला किसी भी तरह से हारे नहीं है। उन्होंने कहा कि ऐसा पहली बार हुआ है कि केंद्र व प्रदेश में कांग्रेस की सरकार है और हिसार लोकसभा क्षेत्र के तहत पडऩे वाले 9 विधानसभा क्षेत्रों में से 6 हलकों में कांग्रेस के विधायक हैं। बावजूद इसके न सिर्फ कांग्रेस प्रत्याशी की जमानत जब्त हो गई बल्कि कांग्रेसी विधायकों के हलकों में जयप्रकाश बुरी तरह से हारकर तीसरे स्थान पर रहे हैं।

चौटाला ने कहा कि इस उपचुनाव में उनकी लड़ाई सीधे-सीधे कांगे्रस के भ्रष्टाचार व कुशासन के खिलाफ थी। उन्होंने कहा कि हिसार के मतदाताओं ने उनके आग्रह पर न सिर्फ कांग्रेस की जमानत जब्त करवाई बल्कि पिछले चुनाव से 45 फीसदी ज्यादा वोट दिए हैं। इस चुनाव में लोगों ने कांग्रेस द्वारा उन्हें बदनाम करने के लिए झूठे मामले दर्ज करने के सभी आरोपों को दरकिनार करते हुए उन्हें भरपूर सहयोग और समर्थन दिया। उन्होंने कहा कि पिछले विधानसभा चुनाव में कांग्रेस को पांच सीटें हासिल हुई थी जबकि हांसी के विधायक को दलबदल करवाकर कांग्रेस में शामिल किया गया। उन्होंने कहा कि आईएनएलडी उम्मीदवार को जो जनमत मिला है उसे देखते हुए हम हारने के बाद भी जीत महसूस कर रहे हैं, यह जनमत की जीत है।

चौटाला ने कहा कि हुड्डा मध्यावधि चुनाव की तैयारी करें, ये चुनाव अब किसी भी समय हो सकते हैं। प्रदेश में कानून व्यवस्था पर चौटाला ने कहा कि कांग्रेस के शासन में व्यवस्था का दीवालिया निकल चुका है। आईएनएलडी प्रमुख ने बताया कि उनकी पार्टी जनलोकपाल बिल का पहले से ही पूरी तरह समर्थन करती रही है और इस मुद्दे पर विधानसभा में भी पार्टी ने समर्थन करते हुए एक प्रस्ताव पारित करके केंद्र को भेजे जाने की मांग की थी। पार्टी नेताओं के खिलाफ दर्ज मामलों पर पार्टी प्रमुख ने कहा कि कांग्रेस की हमेशा विरोधियों को झूठे मामलों में फंसाने की सोच रही है।

उन्होंने कहा कि ऐसे झूठे मामले चौधरी देवीलाल सहित एनटी रामाराव , जयललिता , मुलायम सिंह , लालू प्रसाद , मायावती , प्रकाश सिंह बादल और चंद्रबाबू नायडू सहित अनेक नेताओं के खिलाफ दर्ज किए जाते रहे हैं।

Related Posts: