मर्जर एग्रीमेंट के सभी मामले खारिज

बैरागढ़5 जून (संवाददाता) संत हिरदाराम नगर स्थित ईदगाह हिल्स, खानूगांव की कुल 2800 एकड भूमि जिला कलेक्टर ने मर्जर में जोड दी थी. इससे संत नगर सहित करीब कई गांवो के लोग इससे चिंतित थे पिछले वर्ष मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान बैरागढ के कायर्कम में पहुचे और उन्होंने मंच से घोषणा करते हुए कहा था कि मर्जर से चिंतित होने की कोई जरुरत नहीं है.

मैं उनकी परेशानी में खडा हूं उन्हे कोई बेदखल नहीं करेंगा उनके लिए मुख्यमंत्री के द्वार खुले है. सन् 2008 से मर्जर एग्रीमेंट का मामला जिला न्यायालय में लम्बित था जिसकी कई बार पेशियां बडी उधर गांव बचाव अभियान समिति ने याचिका कोर्ट में जिला कलेक्टर कार्यालय की कोर्ट में दर्ज की थी लेकिन कई से भी इस मामले में लोगो को राहत नहीं मिल पा रही थी मंगलवार के दिन लोगो के लिए खुशी का आया ओर जिला कलेक्टर ने मर्जर प्रभारियो को राहत देते हुए मर्जर एग्रीमेंट के सभी मामले खारिज कर दिये. प्राप्त जानकारी के अनुासर लम्बे समय से जिला कलेक्टर कोर्ट में करीब आठ गांवो के मुकदमे चल रहे थे जिन्हे खारिज कर दिये. कलेक्टर ने प्रभावितो के पक्ष में फैसला सुनाते हुए तत्कालीन जिला कलेक्टर की निगरानी द्वारा दायर किये गये सभी मुकदमो को खारिज कर दिया जाता है. आठ गांवो की 2800  एकड भूमि पिछले 50-60 साल से इस भूमि पर रह रहे थे लेकिन मर्जर एग्रीमेंट में जोडने से इनकी नींद हराम हो गई थी जिला कलेक्टर के इस फैसले में कलेक्टर द्वारा राज्य सरकार को निर्देश दिये. ताकि वैधानिक तरीके से मर्जर समस्या का समाधान हो सके.

डागा ने मुख्यमंत्री का माना आभार

जैसे ही मर्जर एग्रीमेंट प्रतिवेदन जिला कलेक्टर ने मुख्यमंत्री को भेजने के निर्देश दिये वैसे ही मंगलवरा को संत हिरदाराम नगर में खुशी की लहर दौड गई. उधर क्षेत्रीय विधायक जितेन्द्र डागा ने मंगलवार की शाम अपने उदबोधन के दौरान कहा कि मुख्यमंत्री को प्रतिवेदन भेजने से मर्जर एग्रीमेंट के प्रभावितो को राहत मिलेगी और उन्होने पिछले वर्ष नव युवक सभा में समारोह में जो घोषणा की थी उस पर खडे उतरे और उन्होने बैरागढ सहित आठ गांवो के प्रभावितो को बैदखल नहीं होने की बात कही थी जिस पर वे खडे उतरे. जब उनसे पूछा गया कि घर बचाव सेवा समिति भी इस मामले पर कोर्ट में कैस लगाये हुए थे उन्होने यह कहते हुए कहा कि हम चन्दा लेने वाले समिति के लोगो की बात नहीं करते हम काम में विश्वास रखते है. इस अवसर पर आवास संघ के अध्यक्ष सुशील वासवानी, ईश्वरी नाथानी, भाजपा अध्यक्ष बसंत भारानी, महामंत्री राजेन्द्र गर्ग, सुनील सिंह जाट, अशोक मीणा, पार्षद श्रीमती संध्या प्रधान, इन्द्र भोजवानी, राकेश चन्द्रवंशी, मनीराम यादव, किशन अच्छानी, परसराम मीणा, सहित बडी संख्या में चंचल चौराहा पर भाजपा नेताओं ने मर्जर एग्रीमेंट पर लडाई के लिए क्षेत्रीय विधायक जितेन्द्र डागा का गर्म जोशी से स्वागत किया ओर आतिशबाजी की.

प्रापर्टी के दामों में उछाल आने की संभावना

सन् 2008 से मर्जर एग्रीमेंट बैरागढ सहित ईदगाह हिल्स, खानूगांव, लक्ष्मण नगर, राजेन्द्र नगर, शिखर होटल के पीछे, सीटीओ कालोनी, आदित्य एवेन्यू, पंचवटी, क्षेत्र ऐसे है. जो भ्रष्ट अधिकारियो की बदोलत जोड दिये गये थे अब मर्जर एग्रीमेंट का प्रतिवेदन राज्य सरकार को भेजने के बाद एक बार फिर इन क्षेत्रो में प्रापर्टी के दाम में उछाल आने की संभावना है. पिछले दो वर्षो से न तो प्रापर्टी बिक रही थी न कोई खरीद रहा था अब इस बार फिर इन क्षेत्रो की जमीनो पर आंख गाडे बैठे हुए है.

Related Posts: