बैरागढ़ 18 अप्रैल (संवाददाता) संत हिरदाराम नगर में इन दिनों अतिक्रमण की बाहर आई हुई है. बढते अतिक्रमण व बदहाल सडके लोगो के लिए समस्या बन चुकी है. अतिक्रमण के कारण सडके सकरी हो गई है जिसमे पैदल चलने वाले लोगो को परेशानी का सामना करना पड रहा है.

अतिक्रमण कार्यवाही होती है तो सिर्फ औपचारिकता के तौर पर अब भी बाजारो और रियायती क्षेत्रो में न तो लोगो को वाहन निकालने की जगह मिलती है न ही पैदल. अतिक्रमणकारियो को हटाने की कार्यवाही शुरु होती है तो लेकिन हाटठेले वालो को मुख्य मार्ग से हटा तो दिया जाता है लेकिन धीरे धीरे पुन अपना व्यवसाय करते है इससे आम लोगो को परेशानी का सामना करना पड रहा है. साथ ही नाले नालियो पर भी अतिक्रमण से लोग बेहाल है. हालांकि पिछले दिनों क्षेत्रीय विधायक जितेन्द्र डागा से कुम्हार मोहल्ले में लोगो ने शिकायत की थी कि लोगो ने नाले पर अतिक्रमण कर लिया और लोगो को निकलने में परेशानी होती है लेकिन आज तक कार्यवाही नहीं हुई है.

अतिक्रमण के कारण वन ट्री हिल्स, सीटीओ, पीएनबी मार्ग, नवयुवक सभा रोड, बस स्टेण्ड क्षेत्र, सराफा बाजार, आरा मशीन रोड, मछली मार्केट, राजेन्द्र नगर, बेहटा गांव, इन क्षेत्रो में कालोनियो में रियायती कालोनियो में अतिक्रमण की बहार आई हुई है. लेकिन क्षेत्रीय पार्षद व अतिम्रमण अधिकारी इस ओर ध्यान नहीं देते इस वजह से उनके हौसले बुलंद हो गये है. बैरागढ का मुख्य मार्ग तो इन दिनो चपेट में है जब कि, बर्तन विक्रेता व कबाडियो ने मुख्य सडको को घेर रखा है जहां वाहन चलाना तो दूर पैदल चलना भी मुश्किल होता है जो विरोध करते है उससे व्यवसाय अभद्रव्यवहार करते है. और शिकायत करने की धमकी देते है. लेकिन नगर निगम का अतिक्रमण दस्ता ऐसे लोग पर कार्यवाही करना तो दूर उल्टे व्यवसायी को दे रहा है.

कांग्रेस की आरोप पत्र समिति में 6 और सदस्य शामिल

भोपाल.भारतीय जनता पार्टी की वादा खिलाफ एवं अनियमितताओं की सप्रमाण जानकारी एकत्र कर पार्टी की ओर से तथ्यात्मक आरोप पत्र तैयार करने के लिए पूर्व में गठित आरोप पत्र समिति में प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष कांतिलाल भूरिया ने 6 और सदस्य शामिल किये हैं. यह जानकारी देते हुए प्रभारी आरोप पत्र कैप्टन जयपालसिंह ने बताया है कि आरोप पत्र समिति में जो नये सदस्य शामिल किये गए हैं, वे हैं – जे.पी. धनोपिया और अभय दुबे (दोनों प्रवक्ता), पूर्व विधायक राजेन्द्र भारती (दतिया), पक्ष खाम्बरा, पार्थसारथी दुबे तथा मुनीद्र द्विवेदी (भोपाल).

Related Posts: