भोपाल,21 जून, व्यापम द्वारा आयोजित प्रवेश परीक्षा पी.ई.पी.टी.-2012 के घोषित परिणामों के आधार पर इंजीनियरिंग महाविद्यालयों में बी.ई. पाठ्यक्रम में ”शिक्षण शुल्क छूट योजना” से प्रवेश के इच्छुक मध्यप्रदेश के मूल-निवासी उम्मीदवार ऑनलाइन ऑफ-कैम्पस काउंसलिंग में इंटरनेट के माध्यम से अधिकृत सहायता केन्द्रों अथवा एम.पी. ऑनलाइन के मध्यप्रदेश स्थित किसी भी कियोस्क से वेबसाइट http://www.dtempcounselling.org/ अथवा http://mponline.gov.in/ के माध्यम से सम्मिलित हो सकते हैं.

अधिकृत सहायता केन्द्रों, सह-कियोस्क केन्द्रों की सूची दोनों वेबसाइट पर उपलब्ध है.
बी.ई. पाठ्यक्रम के लिये ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन और दस्तावेजों का सत्यापन 5 जुलाई तक होगा. विद्यार्थी 23 जून से 5 जुलाई तक वांछित संस्थाओं के प्राथमिकता क्रम का ऑनलाइन चयन कर लॉक कर सकते हैं. आवंटन-पत्रों की ऑनलाइन उपलब्धता और आवंटित संस्था में प्रवेश 10 से 12 जुलाई तक होंगे. विद्यार्थी 10 से 12 जुलाई तक अपग्रेडेशन का विकल्प ऑनलाइन प्रस्तुत कर सकेंगे. अपग्रेडेशन के पश्चात आवंटन-पत्रों की ऑनलाइन उपलब्धता तथा आवंटित संस्थानों में प्रवेश 16 से 18 जुलाई तक होगा.ऐसे समस्त उम्मीदवार जो मध्यप्रदेश के मूल-निवासी हैं तथा जिनके परिवार की समस्त स्रोतों से नवीनतम वार्षिक आय चार लाख 50 हजार रुपये से कम है और जिन्होंने व्यापम की प्रवेश परीक्षा में इस विकल्प का चयन नहीं किया है और अब शिक्षण शुल्क छूट योजना के अंतर्गत प्रवेश के इच्छुक हैं, वे रजिस्ट्रेशन करते समय इसका विकल्प दे सकते हैं.

ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन पर देय शुल्क समस्त श्रेणी के अभ्यर्थियों के लिये 430 रुपये है. इसमें 30 रुपये पोर्टल शुल्क भी शामिल है. सामान्य पूल की प्रथम चरण की काउंसलिंग तथा शिक्षण शुल्क छूट योजना (TFW) की इस काउंसलिंग के लिये केवल एक ही रजिस्ट्रेशन करवाना है, किन्तु ऑनलाइन संस्थाओं की प्राथमिकता क्रम का चयन (च्वाइस फिलिंग) अलग-अलग करना होगा. अत: ऐसे अभ्यर्थी जो सामान्य पूल के प्रथम चरण की काउंसलिंग के साथ-साथ शिक्षण शुल्क छूट योजना में भी प्रवेश का चांस लेना चाहते हैं, वे दोनों काउंसलिंग के लिये अलग-अलग च्वाइस फिलिंग कर लॉक करें. शिक्षण शुल्क छूट योजना में संस्थाओं की प्राथमिकता क्रम के चयन के बाद लॉक करने के लिये केवल .00 रुपये पोर्टल शुल्क देना होगा. कोई भी शुल्क वापसी योग्य नहीं है.

ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन के पश्चात दस्तावेजों का सत्यापन पॉलीटेक्निक महाविद्यालय, महिला पॉलीटेक्निक और स्वशासी एवं अनुदान प्राप्त इंजीनियरिंग महाविद्यालय में बनाये गये अधिकृत सहायता केन्द्रों से करवाना है. इसकी सूची एवं काउंसलिंग प्रक्रिया की विस्तृत जानकारी वेबसाइट http://www.dtempcounselling.org/ अथवा http://mponline.gov.in/ पर उपलब्ध है.

इस योजना में प्रवेश लेने वाले विद्यार्थियों को पूरे पाठ्यक्रम के दौरान अपनी संस्था एवं ब्रांच परिवर्तन की अनुमति नहीं होगी. प्रवेशित विद्यार्थी को संबंधित पाठ्यक्रम के लिये अन्य किसी भी काउंसलिंग में आवंटन नहीं किया जायेगा. यह काउंसलिंग प्रक्रिया केवल शिक्षण शुल्क छूट योजना की सीटों पर प्रवेश के लिये है. विद्यार्थियों को शिक्षण शुल्क के अतिरिक्त अन्य सभी शुल्क देने होंगे. ऐसे विद्यार्थी जो शिक्षण शुल्क योजना की काउंसलिंग के साथ-साथ सामान्य पूल के प्रथम चरण की काउंसिलिंग में भी भाग लेना चाहते हैं वे उसकी समय-सारणी के अनुसार कार्यवाही करें.

Related Posts: