मुंबई, 21 मई. रेव पार्टी में पकड़े गए क्रिकेटर राहुल शर्मा ने अपनी सफाई में कहा है कि वे वहां सिर्फ एक बर्थडे पार्टी में शामिल होने गए थे. उन्होंने बीयर तक नहीं पी थी, ड्रग्स लेना तो दूर की बात है.

राहुल ने कहा कि मेडिकल रिपोर्ट के परिणाम से साफ हो जाएगा कि वे निर्दोष हैं और अगर वो दोषी पाए जाते हैं तो क्रिकेट खेलना छोड़ देंगे. राहुल ने कहा कि मैं पुणे से मुंबई आया था. मेरे बॉस ने बोला कि बर्थडे पार्टी का निमंत्रण है तो मैं चला गया. वहां स्विमिंग पूल था. मैंने फ्रेश लाइम सोडा लिया तभी पुलिसवाले आए और उन्होंने रूटीन चेकिंग के नाम पर मुझे साइड में कर लिया. उन्होंने मुझसे सैम्पल मांगे तो मैंने हामी भर दी क्योंकि मैंने कुछ गलत किया ही नहीं था.

हां, मैंने शराब पी थी, लड़की को छुआ भी था

अमेरिकी महिला से छेड़छाड़ में फंसे रायल चैलेंजर्स बेंगलूर के आस्ट्रेलियाई क्रिकेटर ल्यूक पामर्शबाख ने जांचकर्ताओं के समक्ष कबूल किया है कि उसने घटना के वक्त शराब पी रखी थी. पुलिस सूत्रों के हवाले से आ रही खबरों के अनुसार ल्यूक ने कहा है कि नशे में होने के कारण उसने पीडि़ता को अनजाने में छुआ था. वहीं सूत्रों का कहना है कि बेंगलूर के एक अन्य खिलाड़ी के पी अपन्ना भी इस मामले में फंस सकते हैं क्योंकि सीसीटीवी फुटेज में उन्हें ल्यूक के साथ पीडि़ता के कमरे की ओर जाते देखा गया है. सूत्रों का कहना है कि फुटेज में कर्नाटक के रणजी खिलाड़ी अपन्ना की पहचान हुई है और उससे बात भी की गयी है .

लेकिन औपचारिक तौर पर उससे पूछताछ फिलहाल बाकी है. हालांकि पुलिस इस बात के प्रति आश्वस्त नहीं है कि अपन्ना ने वारदात वाले कमरे में प्रवेश किया था या नहीं. ल्यूक को अमेरिकी महिला से छेड़छाड़ के आरोप में गिरफ्तार किया गया था और बाद में उसे अदालत से जमानत मिल गयी थी. पुलिस के अनुसार पीडि़ता के मंगेतर साहिल पीरजादा की आरसीबी के टीम मालिक विजय माल्या के बेटे सिद्धार्थ माल्या से दोस्ती है और सिद्धार्थ ने ही उसे पार्टी में बुलाया था जहां साहिल के साथ उसके दो दोस्त भी आये थे. पुलिस के अनुसार ल्यूक दो बार साहिल के कमरे में गया था. दूसरी बार अपन्ना भी उसके साथ था और संभवत अपन्ना सिद्धार्थ की खोज में उधर पहुंचा था. इस मामले में साहिल के दोस्तों का बयान लिया जा रहा है.

आईपीएल में काले धन की जांच होगी : माकन

केन्द्रीय खेल मंत्रालय ने राजस्व विभाग से इंडियन प्रीमियर लीग में काले धन के इस्तेमाल के बारे में सामने आ रहे मामलों की जांच करने को कहा है. केन्द्रीय खेल एवं युवा मामलों के मंत्री अजय माकन ने आज लोकसभा में शून्यकाल के दौरान मामला उठने पर यह जानकारी दी. उन्होंने यह भी कहा कि सरकार इस पक्ष में है कि भारतीय क्रिकेट कंटोल बोर्ड को सूचना के अधिकार कानून के तहत आना चाहिए और यह मुद्दा केन्द्रीय सूचना आयोग के समक्ष उठाया गया है जिस पर सुनवाई चल रही है. माकन ने कहा कि खेल मंत्रालय ने राजस्व सचिव को पत्र लिखकर कहा है कि आईपीएल में कालेधन के इस्तेमाल के जो नये मामले सामने आ रहे हैं उनकी जांच की जानी चाहिए.

उन्होंने बताया कि प्रवर्तन निदेशालय आईपीएल के खिलाफ फेमा उल्लंघन के 19 नोटिस पहले ही जारी कर चुका है. पिछले सप्ताह यह मसला फिर उठने पर प्रवर्तन निदेशालय को फिर पत्र भेजा गया है. खेल मंत्री ने कहा कि मंत्रालय चाहता है कि बीसीसीआई को आरटीआई के तहत लाया जाये. उनका कहना था कि उसे कई जगह मुफ्त में जमीन दी गयी है. वह देश का प्रतिनिधित्व करने वाली टीम चुनता है और क्रिकेट मैच के रूप में देश के सबसे बड़े सार्वजनिक समारोह का आयोजन करता है. उन्होंने कहा कि उसे 1996 से 2006 के बीच कर में भी छूट मिली है.

सोमालियाई लुटेरों जैसा बर्ताव कर रहा बोर्ड

इंडियन प्रीमियर लीग में उठ रहे एक के बाद एक विवादों के बाद टूर्नामेंट को साफ सुथरा करने का अभियान छेड़ रहे पूर्व आलराउंडर कीर्ति आजाद ने आज भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) की तुलना सोमालियाई लुटेरों से कर डाली. मुंबई में दो क्रिकेटरों के एक रेव पार्टी में पकड़े जाने के बाद आजाद ने सोमवार को कहा कि किसी में जिम्मेदारी नाम की कोई चीज नहीं रह गयी है. ऐसा लग रहा है जैसे बीसीसीआई सोमालियाई लुटेरों की तरह व्यवहार कर रहा हो. कुछ खिलाड़ी रेव पार्टी में घूम रहे हैं. जिसे जो मर्जी वह कर रहा है. यह छोटी बात नहीं है. भारतीय जनता पार्टी के सांसद ने कहा यह अनुशासनहीनता का मुद्दा है और इसलिए बड़ा मुद्दा है.

Related Posts: