भोपाल, 10 अक्टूबर नभासं. भोपाल गैस हादसे से संबधित सही आंकड़े सुप्रीम कोर्ट में पेश करने की मांग को लेकर गैस पीडि़त संगठनों ने मंगलवार 11 अक्टूबर को भोपाल बंद करने का आव्हान किया है.

गैस पीडि़त महिला स्टेशनरी कर्मचारी संघ, भोपाल गैस पीडि़त निराश्रित पेंशन भोगी संघर्ष मोर्चा, भोपाल गैस पीडि़त महिला पुरूष संघर्ष मोर्चा, भोपाल गु्रप फार इंफारमेशन एंड एक्शन और डाव कार्बाइड के खिलाफ बच्चे आदि संगठनों के पदाधिकारियों ने बताया कि केंद्र सरकार और राज्य सरकार से सुप्रीम कोर्ट में होने वाली सुधार याचिका में गैस त्रासदी से संबंधित सहीं आंकड़े प्रस्तुत करने की मांग को लेकर यह बंद आयोजित किया गया है. गैस पीडि़त संगठनों के इस बंद में शहर के अन्य संगठनों ने भी समर्थन किया है. महानगर आटो चालक संघ ने निर्णय लिया है कि आटो चालक भी मंगलवार को बंद में शामिल होंगे और आटो रिक्शा नहीं चलेंगे.

बंद का समर्थन-भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी ने पाँच गैस पीडि़त संगठनों के आगामी 11 को भोपाल बंद के आव्हान का समर्थन कर आम जनता से बंद में सहयोग देने की अपील की है. भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी से सम्बद्घ एटक, ट्रांसपोर्ट हम्माल मजदूर सभा, भेल, बैंक तथा कर्मचारियों के संगठनों ने भी बंद का समर्थन किया है.

भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी के जिला सचिव शैलेन्द्र कुमार शैली ने कहा कि भोपाल के समस्त 5 लाख 75 हजार गैस पीडि़तों को अधिकतम मुआवजा अमेरिका में इस तरह की दुर्घटनाओं के लिये निर्धारित दरों के आधार पर मिलना चाहिए. गैस पीडि़तों के बीच इस तरह अवैज्ञानिक वर्गीकरण और भेदभाव उचित नहीं है. केन्द्र और राज्य सरकारों द्वारा भोपाल के गैस पीडि़तों के हितों के साथ उपेक्षा की जा रही है. इन सरकारों ने गैस पीडि़तों का पक्ष लेने की बजाय गैस पीडि़तों का पक्ष अदालतों में कमजोर ही किया है. भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी ने केन्द्र सरकार तथा सुप्रीम कोर्ट से अपील की है कि मानवीय आधार पर सभी गैस पीडि़तों को अधिकतम मुआवजा व न्याय प्रदान करने की कार्रवाई की जाये.

बंद के समर्थन में पैदल जुलूस निकला-गैस पीडि़तों की विभिन्न समस्याओं को लेकर कल विभिन्न गैस पीडि़त संगठनों द्वारा आयोजित बंद को लेकर आज म.प्र. कांग्रेस कमेटी के पूर्व प्रवक्ता आरिफ मसूद के नेतृत्व में एक विशाल पैदल जुलूस पीरगेट चौक, इतवारा, बुधवारा, इस्लामपुरा, जुमेराती, आजाद मार्केट, मंगलवारा, छावनी नौ बहादर सब्जी मंडी, हमीदिया रोड आदि क्षेत्रों से निकाल कर उक्त क्षेत्रों के व्यापारियों से मांग की वह गैस पीडि़तों की हो रही विभिन्न समस्याओं को लेकर कल होने वाले बंद का समर्थन करें जिससे की गैस पीडि़तों के मुआवजे की आवाज को अमेरिका के डाउ केमिकल्स तक पहुँचाया जा सके. मसूद ने अपना समर्थन देते हुए आज विभिन्न संगठनों द्वारा आयोजित रैली में भी पहुँचकर बंद की अपील करते हुए कहा सभी गैस पीडि़तों की मुआवजे की मांग है जिन्हें वर्तमान में दिये जा रहे मुआवजे से वंचित रखा गया है उन सभी गैस पीडि़तों को मुआवजा मिलना चहिए जिन्हें 25-25 हजार रुपये मिल चुके है.

बंद को समाजवादी पार्टी का समर्थन-समाजवादी पार्टी के जिला अध्यक्ष विशु विजय शर्मा,. शर्मा ने जारी प्रेस विज्ञप्ति में बताया कि गैस कांड में गैस पीडि़तों द्वारा कल 11 अक्टूबर को भोपाल बंद का आव्हान किया गया है जिसके समर्थन में समाजवादी पार्टी अपना भरपूर समर्थन प्रदान करती है और गैस पीडि़तों के लिये यदि सुप्रीम कोर्ट भी जाना पड़ा तो पार्टी इससे पीछे नहीं हटेगी.

समाजवादी के कार्यकर्ता उनकी रैली के साथ रहेंगे जो निम्र है चन्द्रशेखर चतुर्वेदी, देवी सिंह नामदेव, राजकुमार सिंह, भगवान सिंह यादव, शिशु पाल यादव आदि कार्यकर्ता उपस्थित रहेंगे.

Related Posts: