भोपाल रेल मण्डल ने  किया आय का लेखा-जोखा प्रस्तुत

भोपाल, 3 मार्च, नभासं. भोपाल रेल मण्डल ने अप्रैल 11 से मार्च 12 तक होने वाले राजस्व में जो वृद्धि हुई है वह अपने आपमें एक रिकार्ड है. और यह सब रेल कर्मियों एवं अधिकारियों के बीच बेहतर तालमेल के चलते इस लक्ष्य तक पहुंचा जा सका है. यह बात मण्डल रेल प्रबंधक घनश्याम सिंह ने आयोजित पत्रकार वार्ता में यह बात कही. डीआरएम ने यह जानकारी देते हुए बताया कि जहां इस मण्डल की आय में वृद्धि हुई है, वहीं हम यात्रियों को मूलभूत सुविधाएं बढ़ाने के लिए हर संभव प्रयास किये हैं.

पॉच चरणों में होगा विस्तार कार्य

भोपाल मण्डल में विस्तार के संबंध में चर्चा के दौरान कहा कि भोपाल स्टेशन पर यात्रियों को मूलभूत सुविधा उपलब्ध कराने हेतु स्टेशन का विस्तार चल रहा है. स्टेशन के दोनों तरफ सर्कुलेटिंग एरिया में चरणबद्ध तरीके से विकास कार्य किया जा रहा है. अभी प्रथम फेज का कार्य किया जा रहा है. इसके पश्चात विभिन्न पॉच फेजों में निर्माण कार्य पूरा किया जा सकेगा. यात्रियों की सुविधा के लिये शीघ्र ही भोपाल आरक्षण कार्यालय में आरक्षण उपलब्धता की स्थिति दर्शाने वाली प्रणाली प्रारंभ हो जायेगी.

टोल फ्री नंबर की सुविधा
मण्डल रेल प्रबंधक ने यात्रियों की आपातकाल में सुरक्षा, संरक्षा एवं किसी भी प्रकार की परेशानी आने पर यात्रियों की सुविधा के लिए रेलवे के टोल फ्री नंबर पर तत्काल उसकी जानकारी दिये जाने के पश्चात समस्या के निदान होने की जानकारी दी है. यदि किसी भी यात्री को आपातकाल स्थिति में किसी प्रकार की परेशानी में है तो वह रेलवे के कंट्रोल रूम में इस टोल फ्री नंबर 8002330044 पर संपर्क कर अपनी समस्या से अवगत करा सकता है. इसी प्रकार यदि किसी यात्री को ट्रेन में कोच के अंदर लेटबाथ में पानी नहीं है या साफ-सफाई नहीं है तो वह इस नंबर 9752416996 पर संपर्क करने के बाद उसे समस्या से निजात मिल सकेगी. इसी प्रकार यदि किसी यात्री को अपनी सुरक्षा को लेकर  खतरा लग रहा है, ऐसी स्थिति में वह सिक्युरिटी सिस्टम के लिए वह 9752416060 पर पूरी जानकारी दिये जाने के बाद ही कार्यवाई की जा सकेगी.

ये है मण्डल के  आय का लेख-जोखा

भोपाल मण्डल ने मालभाड़ा से कुल आय 507.34 करोड़ अर्जित की जो पिछले वर्ष की तुलना में 70.08 प्रतिशत अधिक है. इसी प्रकार यात्री आय से 337.75 करोड़ अर्जित किये जो गत वर्ष की तुलना में 10.24 प्रतिशत अधिक है. अन्य कोचिंग से 23.23 करोड़  की आय हुई जो गत वर्ष की तुलना में 10.57 प्रतिशत अधिक है. सन्ड्री आय से 6.10 करोड़ राजस्व प्राप्त किया जो पिछले वर्ष की अपेक्षा 42.56 प्रतिशत अधिक है. भोपाल रेल मण्डल ने पिछले वर्ष में कुल 647.18 करोड़ आय अर्जित किये थे. जिसके मुकाबले इस वर्ष 884.96 करोड़ की आय अर्जित कर एक रिकार्ड कायम किया है.

विद्युत इंजन की बढ़ी सुविधा

भोपाल मण्डल के बीना-कोटा रेलखण्ड का विद्युतीकरण का कार्य पूर्ण हो गया है. इस रेलखण्ड पर अब डीजल इंजनों के साथ विद्युत इंजनों से चलाई जा रही है. भोपाल मण्डल ने अपने उपलब्धियों के तहत मण्डल से प्रारंभ एवं गुजरने वाली विभिन्न गाडिय़ों में 1476 कोच लगाए जिससे 3 करोड़ 29 लाख का राजस्व प्राप्त किया. इसी प्रकार मण्डल के 13 स्टेशनों पर अनारक्षित टिकट सह आरक्षण प्रणाली कार्य कर रहा है. जन साधारण टिकट सेवक अभी 21 जगहों पर कार्यरत है तथा 148 स्थानों के  लिए निविदा जारी कर दी गई है.

लगे टोकन रहित ब्लॉक उपकरण

भोपाल रेल मण्डल द्वारा गुना-ग्वालियर रेल खण्ड में ऑप्टीकल फायबर केबल बिछाकर इसमें टोकन रहित ब्लॉक उपकरण लगाए गए. इस इकहरी रेल लाइन के इतने लम्बे ब्लॉक सेक्शन में टोकनलेस डायडो ब्लॉक इंस्टूमेन्ट लगाने वाला भोपाल पहला मण्डल बना. इस खण्ड के सभी स्टेशनों पर संरक्षा सुनिश्चित करने के लिए आईसोलेशन का भी प्रावधान किया गया है. इससे स्टेशन पर पदस्थ पाइन्ट्समेन को जोखिमपूर्ण कार्य से निजात मिलने के साथ ही गाडिय़ों के संचालन में समय की बचत होगी.

2012-13 में ये है योजनाएं
हबीबगंज स्टेशन पर प्लेटफार्म 2 व 3 पर कवर ओवर शेड का विस्तार करना, भोपाल स्टेशन पर निर्माणाधीन प्लेटफार्म 6 पर कवर ओवर शेड एवं वाशेबल एप्रान का प्रावधान, इटारसी स्टेशन पर नव-निर्मित प्लेटफार्म 6-7 पर वाशेबल एप्रान के  अलावा वेस्ट वाटर रिसाइकिलिंग का कार्य एवं वाटर स्टैण्ड आदि यात्री सुविधाओं में विस्तार की भी योजनाएं भोपाल रेल मण्डल की है.

भोपाल मण्डल की ये रही उपलब्धि

  • बीना-कोटा लाइन को दोहरीकरण के लिए रेल मंत्रालय ने की राशि स्वीकृति.
  •  बरखेड़ा-बुदनी के बीच तीसरी रेल लाइन का कार्य प्रगति पर तथा हबीबगंज-बरखेड़ा एवं इटारसी-बुदनी के लिए रेल बजट 2012-13 में स्वीकृति.

Related Posts: