बेंगलूरू, 28 अक्टूबर. भारतीय जनता पार्टी ने कांग्रेस के महासचिव दिग्विजय सिंह की टिप्पणी पर गहरी नाराजगी जताते हुए कहा है कि कांग्रेस को उनकी जबान पर लगाम लगानी चाहिए।

गौरतलब है कि सिंह ने गुरूवार को अपने एक विवादास्पद बयान में राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ और भाजपा पर आरोप लगाया था कि वह लोगों का ध्यान हिंदू आतंकवाद से हटाने के लिए भ्रष्टाचार के मुद्दे को अपना हथियार बना रहे हैं। कर्नाटक में भाजपा के महासचिव प्रह्लाद जोशी ने कहा कि सिंह की नजर में पूरा देश बेईमान है बस कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी, प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह और राहुल गांधी ही दूध के धुले हैं।

जोशी ने कहा कि अगर कांग्रेस के वरिष्ठ अधिकारियों में थोड़ी भी नैतिकता बची हो तो उन्हें सिंह को शांति बनाए रखने के लिए कहना चाहिए ताकि वह दूसरों पर मिथ्यारोप न लगाते फिरें। सिंह ने कहा था कि संघ और भाजपा ने पहले बाबा रामदेव का इस्तेमाल किया और जब वह असफल हो गए तो अन्ना हजारे को मैदान में लाया। अब जब टीम अन्ना भी संकट में घिर गई तो वह आर्ट आफ लिविंग के संस्थापक श्रीश्री रविशंकर को मैदान में उतारने की योजना बना रहे हैं। भ्रष्टाचार के आरोप में राज्य में भाजपा के कई नेताओं के खिलाफ मामला दर्ज होने के सवाल पर जोशी ने कहा कि मैं इस मुद्दे पर कुछ नहीं बोलना चाहता क्योंकि कुछ खास लोगों को लक्ष्य बनाकर इन मामलों में फंसाया जा रहा है. लेकिन हम कानूनी लड़ाई लडऩे के लिए पूरी तरह तैयार हैं और मुझे पूरा विश्वास है कि हमारे सभी नेता बाइज्जत इन मामलों से बरी होंगे।

Related Posts: