नई दिल्ली, 6 जनवरी. एनआरएचएम घोटाले के आरोपी कुशवाहा को पार्टी में शामिल करने के बाद बीजेपी की फजीहत का सिलसिला थमता नजऱ नहीं आ रहा है। जहां इससे एक तरफ पार्टी की भ्रष्टाचार विरोधी मुहिम की हवा निकलती दिख रही है, वहीं दूसरी तरफ पार्टी के कई नेताओं के अलावा सहयोगी भी नाराज हो गए हैं। कुशवाहा के मामले में पार्टी में असंतोष खुलकर सामने आने लगा है, लेकिन पार्टी के शीर्ष नेतृत्व के रवैये से लग रहा है कि पार्टी कुशवाहा को अपने साथ जोड़े रखेगी.

या तो हम या कुशवाहा…
यूपी में पार्टी के सांसद योगी आदित्यनाथ ने पहले तो कुशवाहा की एंट्री पर विरोध जताया और अब साफ कर दिया है कि अगर भ्रष्टाचारी पार्टी में रहेंगे तो वो नहीं रहेंगे। वो किसी भी हद तक जा सकते हैं। कद्दावर सांसद ने इस मुद्दे पर इस्तीफा देने और राजनीति छोडऩे तक की धमकी दे दी है। उप्र के आंवला से भाजपा सांसद मेनका गांधी ने कुशवाहा को पार्टी में शामिल करने के फैसले की आलोचना की है. इससे पहले योगी आदित्यनाथ और कीर्ति आजाद ने भी पार्टी के कदम की खुलकर निंदा की थी. मेनका ने कहा कि बसपा की ओर से निकाले गये लोगों को पार्टी में लेना सही नहीं लगता. उन्हें शामिल करने से पहले किसी से नहीं पूछा गया. ऐसे नेता मंत्री के रूप में अवैध लाभ उठाते हैं और कोई काम नहीं करते. लालकृष्ण आडवाणी, सुषमा स्वराज और मुरली मनोहर जोशी जैसे नेता पहले ही पार्टी के फैसले पर अपनी असहमति जता चुके हैं.

व्हिसल ब्लोअर हैं कुशवाहा : यशवंत

भाजपा के वरिष्ठ नेता यशवंत सिन्हा ने भ्रष्टाचार के गंभीर आरोपों का सामना कर रहे उत्तर प्रदेश के पूर्व मंत्री बाबू सिंह कुशवाहा का बचाव करते हुए कहा है कि कुशवाहा को पार्टी में शामिल करने से पार्टी की छवि खराब नहीं होती है। उन्होंने कहा कि कुशवाहा व्हिसल ब्लोअर (भ्रष्टाचार के खिलाफ आवाज़ उठाने वाले) के तौर पर  ही बीजेपी में आए हैं। सिन्हा ने कहा, वह (कुशवाहा) मायावती की भ्रष्ट सरकार का हिस्सा रहे हैं। अब वह उन सारे गलत कामों को सामने लाएंगे जो मायावती की सरकार में हो रहे थे।

शुक्रवार को बीजेपी की प्रवक्ता निर्मला सीतारमन ने एक संवाददाता सम्मेलन में कहा कि कांग्रेस बीजेपी पर उंगली उठाने से पहले केंद्र सरकार का कामकाज देखे। सीतारमन ने इस बात से इनकार किय है कि उमा भारती कुशवाहा को बीजेपी में शामिल किए जाने पर नाराज हैं। उन्होंने इन खबरों को भी बेबुनियाद बताया कि वे 9 जनवरी से उत्तर प्रदेश में चुनाव प्रचार नहीं करेंगी। सीतारमन ने कुशवाहा के बचाव में कहा कि अभी किसी भी जांच में कुशवाहा दोषी साबित नहीं हुए हैं।  गौरतलब है कि शुक्रवार को मीडिया में ऐसी खबरें आईं कि उमा भारती कुशवाहा को बीजेपी में शामिल किए जाने से नाराज हैं। हालांकि, जब उमा से यह सवाल पूछा गया तो उन्होंने कहा कि वे इस मुद्दे पर सिर्फ पार्टी के मंच पर ही बोलेंगी।

Related Posts: