भोपाल, 8 अप्रैल. भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष प्रभात झा ने प्रदेश कार्यसमिति की बैठक के समापन के पश्चात् पत्रकारों से चर्चा करते हुये बताया कि कांग्रेस के नेतृत्व में केंद्र की यूपीए सरकार ने देश के गरीबों के साथ विश्वासघात किया है. गरीबी हटाने के नाम पर जनादेश पाकर कांग्रेस ने सब्सिडी और रियायतों से वंचित करने के लिये सूची से गरीबों का नाम ही हटा दिया है.

गरीबों का सूची से नाम काटकर कांग्रेस आत्म मुग्ध हो रही है. मध्यप्रदेश में गरीबों के हित संरक्षण के लिये भाजपा हस्ताक्षर अभियान चलेगी और करोड़ों हस्ताक्षर लेकर प्रदेश अध्यक्ष के नेतृत्व में मध्यप्रदेश के राष्ट्रीय पदाधिकारी, सांसद, विधायक, पूर्व विधायक, महापौर, जिला पंचायत अध्यक्ष एवं निर्वाचित प्रतिनिधि जंतर-मंतर दिल्ली पर धरना आंदोलन करेंगे और लोकसभा में नेता प्रतिपक्ष सुषमा स्वराज के नेतृत्व में मार्च करते हुये प्रधानमंत्री डॉ. मनमोहन ङ्क्षसह को ज्ञापन सौंपेंगे. गरीबों के साथ किये जा रहे इस क्रूर मजाक को समाप्त करने का आग्रह करेंगे.

प्रभात झा ने कहा कि यूपीए सरकार लगातार जनविरोधी नीतियां अपना रही है. सोने और ज्वैलरी पर लगाये गये अवांछित कर के विरोध में सराफ का कारोबार बाधित हुआ है. कारोबारियों को करोड़ों रुपये की क्षति पहुंची है. थोड़े से राजस्व के लालच में समूचा स्वर्ण और ज्वैलरी का कारोबार इंस्पेक्टर राज के दायरे में धकेल दिया गया है. भाजपा सराफ व्यापारियों के विरोध आंदोलन में उनके साथ खड़ी है. उन्होंने कहा कि खाद्य संरक्षण मानक अधिनियम संशोधन के जरिये केंद्र सरकार ने समूचे खाद्य व्यापार, खान-पान के उद्यम को कारपोरेट और मल्टीनेशनल्स के लिये खोलने का पांसा फेंका है जिससे देश में करोड़ों लोग बेरोजगार हो जायेंगे.
खाद्य संरक्षण मानक अधिनियम संशोधन के विरोध में 9, 10 एवं 11 अप्रैल को होने वाले विरोध प्रदर्शन में भाजपा के कार्यकर्ता समर्थन देंगे. पार्टी कार्यकर्ता कंधे से कंधा मिलाकर आंदोलन करेंगे.

उन्होंने सराफा कारोबार को प्रस्तावित कराधान से मुक्त करने की मांग की और खाद्य संरक्षण मानक अधिनियम संशोधन से मुक्ति दिलाने का भी केंद्र सरकार से आग्रह किया. प्रभात झा ने कहा कि अगले माह मई में दो महत्वपूर्ण बैठकें होंगी. एक बैठक में प्रदेश के सभी पार्टी के 11 महापौर आमंत्रित किये जायेंगे. उनके साथ बैठकर नगरों के चहुंमुखी विकास और जन आकांक्षाओं के अनुरूप नगरों के विकास का रोडमैप तैयार किया जायेगा. इसी तरह जिला पंचायत अध्यक्षों की संयुक्त बैठक बुलाई जायेगी. प्रदेश में हो रहे (मई माह में प्रस्तावित) नगर पालिका और नगर पंचायतों के चुनाव के लिये पार्टी विशेष योजना बनायेगी. हर निकाय के लिये चुनाव तैयारी में एक-एक प्रदेश पदाधिकारी और एक-एक पूर्णकालिक कार्यकर्ता को तैनात किया जायेगा. प्रभात झा ने कहा कि वे आत्मप्रचार के प्रबल विरोधी हैं. उन्होंने होर्डिंग और बैनर नहीं लगाये जाने का कार्यकर्ताओं से बार-बार आग्रह किया है. इसमें उन्हें पूरी तो नहीं कुछ आंशिक सफलता अवश्य मिली है. उन्हें आशा है कि कार्यकर्ता उनकी भावना से सहमत होंगे और भविष्य में होर्डिंग और बैनर लगाने से अवश्य परहेज करेंगे.

बैठक में मुख्यमंत्री द्वारा की गई घोषणाओं की जानकारी देते हुये झा ने बताया कि मुख्यमंत्री ने कहा है कि ओरछा के समुचित विकास के लिये ओरछा विशेष विकास प्राधिकरण का गठन किया जायेगा. मुख्यमंत्री ने यह भी अपेक्षा की है कि राज्य सरकार के जनोन्मुखी कार्यक्रमों को स्थानीय स्तर पर सफलतापूर्वक क्रियान्वित करने कार्यक्रमों से जनता को लाभान्वित कराने के लिये कार्यकर्ता अपना सक्रिय सहयोग देंगे. मध्यप्रदेश को देश का विकसित और अव्वल नंबर राज्य बनाने के लिये कार्यकर्ताओं का सहयोग अपेक्षित है. प्रभात झा ने बताया कि कार्यकर्ताओं से आग्रह किया गया है कि वे कांग्रेस की अफवाहों और चरित्रहनन के आरोपों पर विश्वास न करें.

चुरहट में जमीन घोटाले की रिपोर्ट सौंपी जाएगी

प्रभात झा ने पत्रकारों को बताया कि पार्टी के प्रदेश महामंत्रीद्वय नंदकुमार ङ्क्षसह चौहान और कुंवर सिंह  ने चुरहट में नेता प्रतिपक्ष द्वारा हथियाई गई आदिवासियों की जमीन की जांच रिपोर्ट पार्टी को सौंप दी है. कैलाश जोशी के नेतृत्व में जांच रिपोर्ट और उसके समर्थन में प्राप्त दस्तावेज, रजिस्ट्रियां, खसरे की नकलें, फोटो-चित्र अनुसूचित जाति आयोग को सौंपने की कार्यवाही की जायेगी. पार्टी रिपोर्ट मुख्यमंत्री को भी सौंपकर आदिवासियों के हित में विस्तृत जांच की मांग करेगी. यह रिपोर्ट जांच के लिये लोकायुक्त को भी सौंपी जायेगी. उन्होंने स्पष्ट किया कि जंतर-मंतर पर गरीबों के समर्थन में किये जा रहे धरना प्रदर्शन आंदोलन के मौके पर प्रदेश के सांसद और विधायक मध्यप्रदेश के साथ नेशनल हाईवे, बिजली कटौती, इंदिरा आवास योजना, प्रधानमंत्री सड़क योजना एवं किसानों को रासायनिक खाद पूर्ति में मध्यप्रदेश के साथ की जा रही गैरइंसाफी का भी पर्दाफाश करेंगे.

मिशन-2012 के लिए  शक्ति लगाएं : पटवा

समापन सत्र के पूर्व मुख्यमंत्री सुंदरलाल पटवा ने कहा कि भारतवर्ष का भविष्य बनाने की गंभीर जिम्मेदारी है. भारतीय जनसंघ से लेकर भाजपा के रूप में अविराम यात्रा हमने पूरी की है और जो सपना डॉ. श्यामाप्रसाद मुखर्जी और पं. दीनदयाल उपाध्याय ने देश की राजनीति को नई दिशा देने और भारतीय लोकतंत्र को द्विकोणीय बनाने का लक्ष्य था वह हमने पूरा कर दिखाया है.

भाजपा देश में राजनैतिक विकल्प बनकर उभरी है. केंद्र में पहली बार गैर कांग्रेसी सरकार बनाकर भाजपा में अटल बिहारी वाजपेयी ने 6 वर्ष तक राजनैतिक स्थायित्व सुनिश्चित किया है. विकास की अनंत संभावनओं को पूरा करना है. देश में विकास की राजनीति पहले पहल भाजपा ने आरंभ की और स्वराज से सुराज तक का लक्ष्य पूरा करने के लिये पार्टी कार्यकर्ता कटिबद्घ हैं. उन्होंने कहा कि कांग्रेस देश की सबसे पुरानी पार्टी रही है लेकिन वह विचार शून्य विचारधारा से अलग-थलग पड़ गई है. वह अपने पतन का रास्ता स्वयं बना रही है. देश में जनविरोधी नीतियां इसका सबूत हैं. भाजपा कार्यकर्ता आधारित पार्टी है कार्यकर्ता के रूप में शिवराज का मुख्यमंत्री बनना और प्रभात झा द्वारा प्रदेश अध्यक्ष का पद संभालना इसका प्रमाण है. कार्यकर्ता समाज एवं देश के लिये समर्पित हैं और आने वाला कल वही होगा जिसका हम आज पूर्ण समर्पण के साथ निर्माण करेंगे. उन्होंने पार्टी पदाधिकारियों और कार्यकर्ताओं से आग्रह किया कि वे प्रदेश सरकार की जनहितैषी नीतियों को जनता की खुशहाली का साधन बनाने के लिये प्राण-प्रण से जुट जायें और मिशन-2013 की सफलता के लिये सारी शक्ति केंद्रित करें.

Related Posts: