• भारत 5 विकेट से हारा

नई दिल्ली 16 मार्च. एशिया कप के चौथे लीग मैच में सचिन का महाशतक भी भारत कोई काम नहीं आया, बांग्लादेश ने आखिरी ओवर में 4 गेंद शेष रहते मैच 5 विकेट से मैच जीत लिया.

शेर-ए-बांग्ला स्टेडियम में खेले गए इस मुकाबले में शुरूआती झटकों से लडख़ड़ाए बांग्ला शेरों ने मैच में वापसी करते हुए सचिन के महाशतक, को धोते हुए भारत के मुंह से जीत छीन ली. भारत ने बांग्लादेश को 290 रन का लक्ष्य दिया था जिसे 5 विकेट के नुकसान पर हासिल कर लिया.  शेर-ए-बांग्ला स्टेडियम में शुक्रवार को एशिया कप के अपने दूसरे मुकाबले में भारत को बांग्लादेश के हाथों करारी शिकस्त का सामना करना पड़ा, बांग्लादेश ने भारत को पांच विकेट से पराजित कर फाइनल में पहुंचने की उम्मीदें जिंदा रखी है. भारत द्वारा दिए गए 290 रनों के लक्ष्य का पीछा करते हुए बांग्लादेश क्रिकेट टीम ने चार गेंदें शेष रहते पांच विकेट से जीत हासिल की. बांग्लादेश की जीत में तमीम इकबाल, जहुरुल इस्लाम, पूर्व कप्तान शाकिब अल हसन, नासिर हुसैन और कप्तान मुशफिकुर रहमान ने अहम भूमिका निभाई. इकबाल ने 70, इस्लाम ने 53, शाकिब ने 49, हुसैन ने 54 और कप्तान रहीम ने धुआंधार रन बनाए.

सचिन ने 147 गेंदों में 12 चौकों और एक छक्के की मदद से अपना 100वां अंतर्राष्ट्रीय शतक बनाया. सचिन ने विराट के साथ दूसरे विकेट के लिए 148 रन और रैना के साथ तीसरे विकेट के लिए 86 रन जोड़े. विराट ने अपनी शानदार लय बरकरार रखते हुए 82 गेंदों की पारी में पांच चौके लगाए जबकि रैना ने 38 गेंदों की तेज तर्रार पारी में पांच चौके और दो छक्के लगाए. कप्तान महेंद्र सिंह धोनी 11 गेंदों में दो चौकों के सहारे 21 रन बनाकर नाबाद रहे. गौतम गंभीर 11 और रोहित शर्मा चार रन बनाकर आउट हुए. भारतीय पारी पूरी तरह सचिन के नाम रही जिन्होंने दृढ़ संकल्प के साथ खेलते हुए एक वर्ष के इंतजार के बाद अपना महाशतक पूरा किया. सचिन ने अपने 50 रन 63 गेंदों में सात चौके और एक छक्के की मदद से पूरे किए, लेकिन अगले 50 रनों के लिए वह काफी धीमे रहे. सचिन ने अर्धशतक के बाद अगले 50 रनों के लिए 75 गेंदें खेली और सिर्फ तीन चौके लगाए.  अनुभवी बल्लेबाज 90 रन पार करने के बाद तो काफी धीमे हो गए थे और उन्होंने एक एक रन लेकर शतकीय मंजिल पूरी की. सचिन के 100 रन 138 गेंदों में दस चौकों और एक छक्के की मदद से पूरे हुए.

सचिन के एकदिवसीय करियर का यह 49वां और बांग्लादेश के खिलाफ पहला शतक था. अनुभवी बल्लेबाज भारतीय पारी के 47वें ओवर में मशरफे मुर्तजा की गेंद पर विकेटकीपर मुशफिकुर रहीम को कैंच थमा बैठे. उनके आउट होने के समय भारत का स्कोर 259 था. सचिन शतक के पास कुछ धीमे हो गए थे वरना भारत का स्कोर 300 पार कर सकता था. पिछले मैच में शानदार शतक बनाने वाले विराट ने इस बार भी उम्दा बल्लेबाजी की और अर्धशतक बनाया. सचिन के साथ 86 रन की साझेदारी के दौरान रैना काफी तेजी के साथ खेले और उन्होंने अपने तेज अर्धशतक से भारतीय रन गति को गिरने नहीं दिया. धोनी ने आकर तेजी दिखाई और भारत को 289 पर पहुंचाया.

बांग्लादेश की ओर से मुर्तजा ने 44 रन पर दो विकेट, शफीउल इस्लाम ने 24 रन पर एक विकेट और अब्दुर रज्जाक ने 41 रन पर एक विकेट लिया.  भारतीय बल्लेबाज सचिन तेंदुलकर ने अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट में 100 शतकों का जादुई आंकड़ा छू लिया है. सचिन के नाम 51 टेस्ट शतक और 49 एकदिवसीय शतक दर्ज हैं. 21 साल से अंतर्राष्टीय क्रिकेट में सक्रिय सचिन ने बांग्लादेश के गेंदबाज शाकिब-अल-हसन की गेंद पर एक रन लेने के साथ यह मुकाम हासिल किया. सचिन ने अपनी 138 गेंदों की पारी में 10 चौके और एक छक्का लगाया. उप कप्तान विराट कोहली 66 रन बनाकर बोल्ड हुए. बांग्लादेशी गेंदबाज अब्दुर रज्जाक की गेंद पर वे बोल्ड हुए. उनका विकेट 173 रनों के स्कोर पर गिरा. उन्होंने दूसरे विकेट के लिए सचिन के साथ 148 रनों की साझेदारी की. विराट ने 66 रनों की पारी में 82 गेंदों पर 5 चौके जड़े.  भारतीय टीम के उपकप्तान विराट कोहली ने अपने एकदिवसीय जीवन का 21वां अर्धशतक ठोका. अपनी अर्धशतकीय पारी में उन्होंने 63 गेंदों पर 4 चौके लगाए. बांग्लादेश के खिलाफ उनका यह दूसरा अर्धशतक है.

बांग्लादेश को पहली सफलता दिलाने वाले गेंदबाज शफीउल इस्लाम सचिन तेंदुलकर का चौका रोकने के प्रयास में जख्मी हो गए. महमदुल्लाह के ओवर की पहली गेंद पर सचिन ने बैकफुट पर जाकर लेग साइड की तरफ पुल शॉट लगाया. गेंद दो टिप्पा खाकर बाउंड्री की ओर जा रही थी कि बीच में इस्लाम आ गए. वो गेंद तो नहीं रोक सके, लेकिन इस प्रयास में दाहिना कंधा चोटिल कर बैठे. उन्हें तुरंत मैदान से बाहर ले जाया गया.  अनुभवी बल्लेबाज सचिन तेंदुलकर ने अपने एकदिवसीय जीवन का 96वां अर्धशतक ठोका. अपनी अर्धशतकीय पारी में उन्होंने 63 गेंदों पर 6 चौके और एक छक्का जड़ा. सचिन अपना पिछला अर्धशतक विश्व कप सेमीफाइनल में पाकिस्तान के खिलाफ लगाया था. बांग्लादेशी गेंदबाज शफीउल इस्लाम की गेंद पर भारतीय सलामी बल्लेबाज गौतम गंभीर बोल्ड हो गए. उनका विकेट 25 रनों के स्कोर पर गिरा. गंभीर ने पहले विकेट के लिए सचिन के साथ 25 रनों की साझेदारी की.

बांग्लादेश क्रिकेट टीम ने शेर-ए-बांग्ला नेशनल स्टेडियम में जारी एशिया कप के अपने दूसरे भारत के खिलाफ टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी करने का फैसला किया है. च्करो या मरोज् के इस मैच में बांग्लादेश टीम में कोई परिवर्तन नहीं किया गया है. वहीं भारतीय टीम में विनय कुमार की जगह अशोक डिंडा को शामिल किया गया है. कप्तान धोनी ने कहा कि विनय घायल होने के कारण इस मैच में नहीं खेल रहे हैं. बांग्लादेश की टीम अपना पहला मैच पाकिस्तान के हाथों अंतिम क्षणों में गंवा बैठी थी और इस कारण अंक तालिका में अब तक उसका खाता नहीं खुल पाया है.

Related Posts: