अष्टमी पूजन के लिए गए थे घर के लोग

विदिशा, 1 अप्रैल न.स.से. थाना गुलाबगंज क्षेत्र के ग्राम अंडिया कलां स्थित एक घर के अज्ञात चोरों ने ताले तोड़ दिये और वहां से लगभग 18 लाख रूपये कीमती सामान चोरी कर ले गये. पुलिस ने उक्त घटना में प्रकरण दर्ज कर लिया है.

गुलाबगंज थाना सूत्रों के  अनुसार ग्राम अंडिया कलां निवासी 65 वर्षीय मोहनलाल पटवा पुत्र वल्देव प्रसाद पटवा अपनी पत्नी श्रीमती ताराबाई पटवा के साथ विगत दिवस 31 मार्च को अष्टमी पूजन के लिये गांव से विदिशा गये थे और आज 1 अपै्रल को उन्हें मोबाइल फोन पर सूचना मिली कि उनके घर के ताले टूट गये हैं और चोरी हो गई है. सूचना मिलने पर श्री पटवा गांव पहुंचे तो घर का सामान बिखरा पड़ा हुआ था तथा अज्ञात चोरों ने उनके घर के ताले तोडऩे के साथ ही लोहे की अलमारी व पेटी के भी ताले तोड़ दिये और वहां से 3 लाख 26 हजार रूपये नगदी, करीब 12 लाख 60 हजार रूपये कीमती 45 तौला सोने के आभूषण और लगभग 1 लाख 96 हजार रूपये कीमती साढ़े 3 किलो चांदी के जेवर सहित कुल करीब 18 लाख  रूपये का सामान चोरी कर ले गये. पुलिस ने बताया कि अज्ञात चोरों ने 31 मार्च व 1 अपै्रल की दरम्यानी रात श्री पटवा के घर को निशाना बनाया.

घटना की सूचना मिलने पर गुलाबगंज थाना प्रभारी वीरेन्द्र सिंह चौहान, एफएसएल टीम व डॉग स्काड मौके पर पहुंचा और जांच पड़ताल की गई. लेकिन फिलहाल आरोपियों का सुराग नहीं लग सका है. पुलिस ने उक्त घटना में अज्ञात चोरों के खिलाफ भादवि की धारा 457 एवं 380 के अंतर्गत प्रकरण दर्ज कर लिया है.  बताया गया है कि श्री पटवा रिटायर्ड टीचर हैं तथा उनकी पत्नी श्रीमती ताराबाई अंडिया कलां प्राथमिक शाला में शिक्षिका हैं तथा श्री पटवा के कोई बच्चे नहीं हैं और ग्राम अंडिया कलां में करीब 35 बीघा उनकी कृषि भूमि भी है और वह खेती भी करते हैं. यहां भी चोरी- सिरोंज निवासी 54 वर्षीय कैलाशनारायण अग्रवाल पुत्र गुट्टनलाल अग्रवाल के गोदाम के बीती रात दो आरोपी सुरेश व देवी ने ताले तोड़ दिये और वहां से 18 हजार रूपये कीमती 6 बोरा मसूर चोरी कर ले गये.

कबाड़ में दिया साढ़े तीन लाख का सोना

सागर, 1 अप्रैल, नससे. गोपालगंज थाना अंतर्गत मनोरमा कॉलोनी निवासी एक व्यक्ति ने एक कबाड़ी को कबाडख़ाने का सामान देते समय चूक से करीब साढ़े तीन लाख के सोने के जेवरात दे दिए. बाद में जब पता चला तो करीब चार माह तक उस कबाड़ी की तलाश परिजन करते रहे, जब वह कबाड़ी नहीं मिला तो इसकी सूचना पुलिस को दी.

जानकारी के अनुसार मनोरमा कॉलोनी निवासी तेजराम नायक ने 20 नवम्बर 11 को एक कबाड़ी को घर का कबाडख़ाना देते समय सोने का हार, सोने की बेदी एवं दो सोने के कड़े दे दिए थे. जब इसकी भनक परिजन को लगी तो परिजन उस कबाड़ी की तलाश में जुट गए. काफी मशक्कत के बाद भी जब उस कबाड़ी का सुराग नहीं मिला तो परिजन हताश हो गए. कबाड़ में गये जेवरात की कीमत 3 लाख 60 हजार रुपये बतायी गई है. गौरतलब है कि चूक से इतना सोना देना एक चिन्ता का विषय बन गया है.

Related Posts: