इंडोनेशिया में भूकंप, भारत सहित 33 देशों में झटके

नई दिल्ली.  इंडोनेशिया का सुमात्रा द्वीप आज रिक्टर स्केल पर 8.6 तीव्रता के भूकंप से हिल उठा. इंडोनेशियाई प्रशासन ने बताया है कि भूकंप के बाद भूकंप के बाद आने वाले झटके (आफ्टरशॉक) महसूस किए गए हैं. इन झटकों की तीव्रता रिक्टर स्केल पर 6.5 आंकी गई.

भूकंप आने के बाद इंडोनेशिया के कई इलाकों में अफरातफरी फैल गई.  अमेरिकी मौसम विभाग के मुताबिक उत्तरी सुमात्रा के पश्चिमी तट पर ऐसेह नाम की जगह पर समुद्र के 33 किलोमीटर अंदर भूकंप का केंद्र है. ऐसेह 2004 में दक्षिण एशिया में आई विनाशकारी सुनामी के लिए जिम्मेदार भूकंप के केंद्र के बहुत नजदीक है.  इंडोनेशिया के राष्ट्रपति ने कहा है कि सुनामी का खतरा (वीडियो)तो नहीं है, लेकिन उनका देश पूरी तरह से तैयार है. भूकंप को देखते हुए 33 देशों में सुनामी अलर्ट जारी किया गया है. इन देशों में थाईलैंड, सिंगापुर,  श्रीलंका, मलेशिया और ऑस्ट्रेलिया भी शामिल हैं.  भूकंप के झटके हिंद महासागर से सटे भारतीय इलाकों में भी महसूस किए गए हैं.

हिल उठा आधा भारत

इससे पहले असम, पश्चिम बंगाल, तमिलनाडु, कर्नाटक, आंध्र प्रदेश और अंडमान निकोबार के साथ छत्तीसगढ़ व मध्यप्रदेश के कुछ में भूकंप के झटके महसूस किए गए. कोलकाता में कई इमारतों में दरार देखी गई है. यहां करीब 20 सेकेंड तक भूकंप के तेज झटके महसूस किए गए. कोलकाता में भूकंप के बाद मेट्रो को रोक दिया गया है. मुंबई से 150 किलोमीटर दूर समुद्र में भी भूकंप की सूचना है. भूकंप की तीव्रता रिक्टर स्केल पर 3.4 मापी गई है.  हालांकि, अभी तक कहीं भी जानमाल के नुकसान की खबर नहीं है. केंद्रीय गृह सचिव आरके सिंह ने कहा है कि केंद्र सरकार ओडि़शा, आंध्र प्रदेश और तमिलनाडु की राज्य सरकारों के संपर्क में है. राष्ट्रीय आपदा प्रबंधन प्राधिकरण (एनडीएमए) ने कहा है कि हिंद महासागर में कहीं भी सुनामी आने की आशंका नहीं है. एनडीएमए ने कहा है कि तमिलनाडु और आंध्र प्रदेश की सरकारों से वह संपर्क में है.

इसके अलावा प्राधिकरण किसी भी स्थिति से निपटने को तैयार है. भारत के पूर्वी तट से सटे इलाकों में मछुआरों को समुद्र में न जाने की सलाह दी गई है. एनडीएमए के उपाध्यक्ष शशिधर रेड्डी ने कहा है कि अंडमान-निकोबार में ऊंची लहरें नहीं देखी गई हैं और इस इलाके में सुनामी आने की आशंका नहीं है.

कोलकाता की इमारतों में दरार

कोलकाता और उसके आसपास के इलाकों में भी हल्का झटका महसूस किया गया. अधिकारियों के अनुसार कोलकाता से लगे उत्तरी 24 परगना और उत्तरी बंगाल के सिलीगुड़ी में भी भूकंप के झटके महसूस किए गए. भूकंप के बाद कोलकाता के कई मकानों व दफ्तरों से लोग बाहर निकल आए.

भूकंप के झटके शहर के कई हिस्सों, विशेषकर लेक टाउन, सॉल्ट लेक और पार्क स्ट्रीट में महसूस किए गए. खबरों के मुताबिक कोलकाता के पार्क स्ट्रीट में कुछ इमारतों में दरारें देखी गई हैं. शहर में मेट्रो ट्रेन सर्विस 2.42 बजे से रोक दी गई है और कई स्टेशनों से यात्रियों को निकलने के लिए कहा गया. वहीं मुंबई में अरब सागर में भूकंप झटका अरब सागर में 18.6 अक्षांश और 71.3 डिग्री देशांतर में दर्ज किया गया. भूकंप का केन्द्र मुंबई से 155 किलोमीटर दूर था.

बुरहानपुर में झटके

बुरहानपुर में वानका वार्ड और मंड़ी इलाके के रहवासियों ने झटके महसूस किए . बहादुरपुर और लालबाग के क्षेत्र में भी झटकों  की खबरें  हैं. जिला प्रशासन ने मौके पर अधिकारियों को पहुंचाया है. भूकंप के ये झटके तीसरी मंजिल पर रहने वालो ने  ज्यादा महसूस किये और ये लोग एकाएक मैदान में आ गए.

* कोलकाता और चेन्नई में भूकंप के झटके
* इंडोनेशिया में भूकंप की तीव्रता 8.2 एवं दूसरी बार 6.8 नापी गई
* कोलम्बो सहित श्रीलंका के कई हिस्सों में भूकम्प के झटके
* कोलकाता में ऐहतियातन रोकी गई मेट्रो सेवा फिर शुरू
* भारत में भूकंप का खास असर नहीं : मौसम विभाग
* भारत में सुनामी की आशंका नहीं : शशिधर रेड्डी
* नाविकों को समुद्र में न जाने की सलाह दी गई.
* अंडमान निकोबार द्वीप पर लोगों को ऊंची जगह जाने को कहा
* अरब सागर में भूकंप की तीव्रता रिक्टर स्केल पर 3.4
* अरब सागर में 155 किलोमीटर दूर और 33 किलोमीटर अंदर आया भूकंप
* महाराष्ट्र या मुंबई में किसी तरह के भूकंप से मौसम विभाग का इनकार
* भुवनेश्वर-कटक में भी भूकंप के झटके
* छत्तीसगढ़ के बिलासपुर में भी आए झटके
* मप्र के बुरहानपुर में हिली इमारतें

Related Posts: