भोपाल, 21 अप्रैल, कांग्रेस ने आज फिर राज्य में अवैध उत्खनन के मामलों के साथ ही देवास जिले में खनिज माफियाओं द्वारा महिला तहसीलदार पर जानलेवा हमला करने की घटना की केन्द्रीय जांच ब्यूरों से जांच कराने की मांग करते हुए महिला तहसीलदार को सुरक्षा प्रदान करने की मांग की है.

प्रदेश कांग्रेस मीडिया विभाग के अध्यक्ष मानक अग्रवाल ने आज यहां पत्रकारों से चर्चा करते हुए आरोप लगाया कि भाजपा नेताओं के संरक्षण में खनिज माफिया द्वारा प्रदेशभर में बेखौफ अवैध उत्खनन किया जा रहा है और राज्य सरकार इसे मूक दर्शक बनकर देखकर रही है. इससे कानून व्यवस्था दिन प्रतिदिन खराब होती जा रही है और स्थिति कभी भी विस्फोटक हो सकती है. उन्होंने कहा कि देवास जिले के कन्नौद थाना क्षेत्र के ग्राम कुसमनिया में 18 अप्र्रैल को महिला तहसीलदार मीना पाल पर खनिज माफिया धारा सिंह के लोगों द्वारा अवैध उत्खनन रोकने की कार्यवाही करने पर जेसीबी मशीन के चालक द्वारा कुचलने का प्रयास किया. यदि महिला तहसीलदार द्वारा सतर्क रहकर अपनी जान नही बचाई गई होती तो उसकी हत्या हो सकती थी. उन्होंने बताया कि इस मामले की जांच के लिए प्रदेश कांग्रेस द्वारा गठित पूर्व विधायक जोधाराम गुर्जर और प्रदेश उपाध्यक्ष श्रीमती आभा सिंह की दो सदस्यी समिति ने 19 अप्रैल को घटना की जांच कर रिपोर्ट प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष कांतीलाल भूरिया को सौप दी है. अग्रवाल ने बताया कि जांच समिति ने जब महिला तहसीलदार मीना पाल से घटना के संबंध में बात की तो पाया कि उस पर राजनीतिक और प्रशासनीक दबाव होने के कारण काफी भयभीत है और उसे अन्यत्र तबादला कर देने का डर भी सता रहा है. उन्होंने महिला तहसीलदार को अविलंब विशेष सुरक्षा देने और उसका तबादला नही करने की मांग राज्य सरकार से की है.उन्होने चेतावनी दी है कि यदि महिला तहसीलदार के खिलाफ कोई कार्यवाही की गई तो कांग्रेस आंदोलन प्रारंभ कर देगी.उन्होने आरोप लगाया कि इस मामले के मुख्य आरोपी और खनिज माफिया आरोपी धारा सिंह को भाजपा के वरिष्ठ नेताओं का संरक्षण प्राप्त है.उन्होंने इस आरोपी के खिलाफ हत्या के प्रयास का मामला दर्ज करने और अवैध उत्खनन के मामलों की सीबीआई जांच कराने की मांग की है.

Related Posts: