भोपाल, 4 सितंबर नभासे. भारतीय जनता पार्टी पंचायतीराज प्रकोष्ठ के राष्ट्रीय प्रभारी हृदयनाथ सिंह ने आज प्रदेश कार्यालय में पंचायतीराज प्रकोष्ठ की प्रदेश पदाधिकारी, जिला पंचायत अध्यक्ष एवं जिला संयोजकों की संयुक्त बैठक को संबोधित करते हुए कहा कि देश में पंचायतीराज का क्षेत्र विशाल है.

इस वृहद क्षेत्र में पार्टी की विचारधारा पहुंचाने के लिए भारतीय जनता पार्टी ने पंचायतीराज प्रकोष्ठ का गठन किया है. उन्होंने बताया कि 30 अक्टूबर को दिल्ली के रामलीला मैदान में 1 लाख पंचायती क्षेत्र से जुडे कार्यकर्ताओं का राष्ट्रीय सम्मेलन आयोजित किया जायेगा. जिसकी तैयारियों को लेकर मध्यप्रदेष भी प्राणपण से जुटे. जनपदीय व्यवस्था को प्रकोष्ठ के माध्यम से लागू कर सके. इस हेतु पंचायतीराज प्रकोष्ठ को प्रभावी बनाएं. पार्टी के प्रदेष अध्यक्ष और सांसद प्रभात झा ने कहा कि आने वाले दिनों में पंचायतीराज प्रकोष्ठ के माध्यम से हमें भारतीय जनता पार्टी की रीति नीति को निचले स्तर तक पहुंचाना है. उन्होंने कहा कि पं. दीनदयाल उपाध्याय जनपदीय प्रणाली के पक्षधर थे.

संगठन के माध्यम से प्रदेष की 23 हजार पंचायतों में प्रकेाष्ठ पहुंचकर अपनी प्रभावी भूमिका बनाएं. उन्होंने कहा कि पंचायत जनप्रतिनिधियों के संपर्क का अधिकार ही भारतीय जनता पार्टी को मजबूत करेगा. उन्होंने प्रकोष्ठ की जीवंतता के लिए प्रवास करने की बात कही. प्रभात झा ने कहा कि गांव विष्वास है, गांव यथार्थ और परमार्थ है. मानवीय संवेदनाओं से भरा अगर कोई कार्य खडा करते है ंतो वह दीर्घ समय के लिए होता है. प्रकोष्ठ गांव से पलायन कर रही समृद्धि को रोकने का कार्य करें.

zp8497586rq

Related Posts: