• इंडियन प्रीमियर लीग-5

चेन्नई, 21 अप्रैल. फैफ डु प्लेसिस (73) की खेली गई शानदार पारी और दो अर्धशतकीय साझेदारी के दम पर गत चैंपियन चेन्नई सुपर किंग्स ने अंतिम गेंद तक की खींचे आईपीएल-पांच के 26वें मुकाबले में राजस्थान रॉयल्स को सात विकेट से हराकर टूर्नामेंट में अपनी चौथी जीत दर्ज करा ली है.

35 डिग्री के तापमान के बीच चेपक स्टेडियम में हुए मुकाबले में ओवैस शाह (52 ) और अशोक मनेरिया (36) की जोरदार पारी और तीसरे विकेट के लिए 92 रनों की अर्धशतकीय साझेदारी के दम पर राजस्थान रॉयल्स ने 20 ओवर में चार विकेट 146 रन बनाए. शाह ने आईपीएल में अपने तीसरे अर्धशतक के लिए 43 गेंदों में चार चौके व तीन करारे छक्के लगाए. जबकि मनेरिया ने 36 (34 गेंद, 2 चौका व 1 छक्का) रनों की पारी खेली. जवाब में प्लेसिस की अर्धशतकीय पारी के दम पर चेन्नई ने 20 ओवर में तीन विकेट खोकर 147 रन बनाकर लक्ष्य हासिल कर लिया. राजस्थान की ओर से केवोन कूपर ने 23 रन देकर दो विकेट निकाले. चेन्नई को छह गेंद पर जीत के लिए आठ रन चाहिए थे. और गेंदबाज स्टुअर्ट बिन्नी ने किफायती गेंदबाजी की लेकिन अंतिम गेंद पर कप्तान धोनी (नाबाद 15) ने दो रन लेकर मैच अपने पक्ष कर लिया.

चेन्नई टूर्नामेंट में अब तक खेले अपने सात में से चार मैच जीतकर अंक तालिका में तीसरे स्थान पर आ गया है. जबकि राजस्थान के भी इतने ही मुकाबलों में चार जीत है और वह अभी भी दूसरे पायदान पर बना हुआ है. जवाब में चेन्नई को एक बार फिर बद्रीनाथ और प्लेसिस ने शानदार शुरुआत दिलाई. पुणे वारियर्स के खिलाफ पिछले मैच में इस नई सलामी जोड़ी ने शतकीय साझेदारी निभाकर टीम के लिए जीत की राह तय की थी. आज भी बद्रीनाथ और प्लेसिस ने 7.3 ओवर में 55 रनों की साझेदारी की. राजस्थान को इस जोड़ी को तोडऩे की काफी दरकार थी लेकिन सफलता ब्रैड हाग ने आठवें ओवर में दिलाई.

हाग ने बद्रीनाथ (15 रन, 22 गेंद, 1 चौका) को विकेटकीपर एस गोस्वामी के हाथों स्टंप कराकर पहली सफलता दिलाई. टूर्नामेंट में शानदार प्रदर्शन करने वाले प्लेसिस ने सुरेश रैना के साथ पारी को आगे बढ़ाया. इस बीच प्लेसिस ने आईपीएल-पांच में अपना तीसरा पचासा जमाया. टूर्नामेंट में तीन पचासा जमाने वाले प्लेसिस के अलावा क्रिस गेल (आरसीबी) और ओवैस शाह ही हैं. हालांकि आक्रामक बल्लेबाजी करने वाले प्लेसिस और रैना ने बीच में बेहद धीमी बल्लेबाजी की और 39 गेंदों में मात्र 36 रन ही जोड़ पाए. 15वें ओवर में सिद्धार्थ त्रिवेदी की गेंद पर प्लेसिस ने छक्का लगाया. अगले ओवर में बल्लेबाजों ने 12 रन बटोरे. इसके साथ ही दोनों के बीच अर्धशतकीय साझेदारी हुई. लेकिन 17वें ओवर की पहली गेंद पर केवोन कूपर ने प्लेसिस को विकेट से पीछे कैच आउट कराया. एक गेंद के अंतराल पर कूपर ने रैना को सीमा रेखा के पास रहाणे के हाथों कैच आउट कराया. एक रन पर दो विकेट गंवाने के बाद मैच में खासा रोमांच आ गया. कप्तान धोनी (नाबाद 15) और ड्वेन ब्रावो (नाबाद 14) ने अंतिम गेंद पर दो रन लेकर लक्ष्य हासिल कर दिया.

इससे पूर्व टास जीतकर पहले बल्लेबाजी करने का फैसला लेने के बाद कप्तान राहुल द्रविड़ ने अंजिक्य रहाणे के साथ पारी का आगाज किया और तेजी से खेलते हुए 4.4 ओवर में बिना किसी नुकसान के 36 रन ठोक डाले. हालांकि इस साझेदारी का खासा योगदान रहा. चौथे ओवर में ड्वेन ब्रावो की गेंद पर रहाणे के लगातार दो गेंदों पर दो चौका जमाने के बाद अंतिम गेंद पर शानदार शाट लगाते हुए द्रविड़ ने गेंदबाज के ऊपर से छक्का जड़ दिया. इसके बाद आर अविश्न ने अपने पहले ओवर की चौथी गेंद पर रहाणे को कुलाशेखरा के हाथों कैच आउट कराकर चलता किया. आरेंज कप पहनने वाले रहाणे मात्र 15 रन बना सके. शादाब जकाती ने द्रविड़ को आठवें ओवर की अंतिम गेंद पर डग बोलिंगर के हाथों कैच आउट कराया. द्रविड़ ने अपनी पारी में 28 गेंदों में तीन चौका व एक छक्का जमाया. 50 रन पर सलामी बल्लेबाजों को खोने के बाद टीम को शाह और मनेरिया ने तीसरे विकेट के लिए 92 रनों की जोरदारी साझेदारी कर टीम को डेढ़ सौ के निकट पहुंचा दिया. चेन्नई की तरफ से नुवान कुलाशेखरा, डग बोलिंगर, आर अश्विन और शादाब जकाती ने एक-एक विकेट लिया.

गेल के विस्फोट से जीता बेंगलूरु

मोहाली. विस्फोटक बल्लेबाज क्रिस गेल की एक और धुआंधार पारी तथा उनके और अब्राहम डिविलियर्स के बीच चौथे विकेट के लिए हुई 131 रनों की शानदार साझेदारी की बदौलत इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के पांचवें संस्करण के अंतर्गत पंजाब क्रिकेट संघ स्टेडियम में शुक्रवार को खेले गए 25वें लीग मैच में रॉयल चैलेंजर्स बेंगलूरु टीम ने किंग्स इलेवन पंजाब को पांच विकेट से पराजित कर दिया.

गेल ने 56 गेंदों पर 87 रनों की तेज तर्रार पारी खेली. अपनी इस पारी के दौरान उन्होंने आठ चौके व चार छक्के लगाए. गेल की यह पारी उस समय आई जब उनकी टीम ने 25 के कुल योग पर तीन शीर्ष बल्लेबाजों के विकेट गंवा दिए थे. गेल को उनकी इस शानदार पारी के लिए मैन ऑफ द मैच का पुरस्कार दिया गया. डेविड हसी ने मिड ऑन में शानदार कैच लपककर गेल की पारी का अंत किया. गेल ने इससे पहले मुकाबले में पुणे वॉरियर्स इंडिया के खिलाफ 48 गेंदों पर 81 रनों की पारी खेली थी और टीम की जीत के नायक बने थे. चैलेंजर्स को यह मैच जीतने के लिए निर्धारित 20 ओवरों में 164 रनों की जरूरत थी जिसे उसने पांच विकेट गंवाकर तीन गेंद शेष रहते हासिल कर लिया. पंजाब के गेंदबाज परविंदर अवाना ने घातक गेंदबाजी कर रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर टीम को एक समय बैकफुट पर धकेल दिया था लेकिन गेल ने डिविलियर्स के साथ मिलकर पारी को आगे बढ़ाया और टीम को जीत दिलाई.

डिविलियर्स ने 39 गेंदों पर 52 की तेज पारी खेली. अपनी पारी के दौरान उन्होंने छह चौके लगाए. गेल के साथ मिलकर उन्होंने चौथे विकेट के लिए 131 रनों की साझेदारी की.
गेल के आउट होने के बाद डिविलियर्स भी आउट हो गए लेकिन इससे पहले दोनों ने टीम को जीत की दहलीज पर पहुंचा दिया. कप्तान डेनियल विटोरी और एंड्रयू मैकडोनाल्ड ने जीत की रस्म अदायगी पूरी की. पहले बल्लेबाजी करते हुए किंग्स इलेवन पंजाब टीम ने रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर टीम के समक्ष जीत के लिए 164 रनों की चुनौती दी है. चैलेंजर्स ने दूसरे ही ओवर में सलामी बल्लेबाज मयंक अग्रवाल का विकेट गंवाया. अग्रवाल सिर्फ एक रन बना सके. उन्हें अवाना ने एलबीडब्ल्यू आउट किया. इसी ओवर की आखिरी गेंद पर अवाना ने विराट कोहली को भी चलता कर दिया. कोहली चार गेंदों पर एक चौके की मदद से चार ही रन बना सके.
इसके बाद बल्लेबाजी करने आए सौरव तिवारी बल्ले से अपनी चमक बिखेरने में नाकाम रहे. वह सात गेंदों पर चार रन बनाकर अवाना के शिकार बने. अवाना ने चार ओवरों में 34 रन देकर गेल सहित चैलेंजर्स के चार बल्लेबाजों को आउट किया. एक विकेट पीयूष चावला के खाते में गया.

इससे पहले चैलेंजर्स के कप्तान डेनियल विटोरी ने टॉस जीतकर किंग्स इलेवन को पहले बल्लेबाजी करने का न्योता दिया था. डेविड हसी के 41 और अजहर महमूद के 33 रनों की बदौलत पंजाब ने निर्धारित 20 ओवरों में छह विकेट के नुकसान पर 163 रन बनाए.
सलामी बल्लेबाज नितिन सैनी 14 रन बनाकर जहीर खान की गेंद पर बोल्ड हुए. सैनी ने 12 गेंदों पर एक चौका लगाया. सैनी कप्तान एडम गिलक्रिस्ट की गैरमौजूदगी में पारी की शुरुआत करने आए थे. जांच की मांसपेशियों में खिंचाव के कारण गिलक्रिस्ट इस मैच में नहीं खेल रहे हैं. उनकी जगह डेविड हसी टीम की कमान सम्भाल रहे हैं. दूसरा विकेट पॉल वॉल्थाटी के रूप में गिरा, जो छह रन बनाकर जहीर की गेंद पर अब्राहम डिविलियर्स के हाथों लपके गए. शॉन मार्श के रूप में पंजाब का तीसरा विकेट गिरा. मार्श ने 17 गेंदों पर तीन चौकों व एक छक्के की मदद से 26 रन बनाए.

कप्तान हसी 34 गेंदों पर चार चौकों की मदद से 41 रन बनाकर आउट हुए. डेविड मिलर कुछ खास नहीं कर सके और वह 13 गेंदों पर आठ रन बनाकर पवेलियन लौटे.
15वें ओवर में हसी के रूप में पंजाब का पांचवा विकेट गिरा. इसके बाद अंतिम के ओवरों में मंदीप सिंह और महमूद ने तेजी से रन बटोरे. मंदीप सिंह 15 गेंदों पर 20 रन बनाकर आउट हो गए. इस दौरान महमूद ने विस्फोटक अंदाज में बल्लेबाजी करते हुए 14 गेंदों पर तीन चौकों और दो छक्कों की मदद से 33 रन बना डाले. चैलेंजर्स की ओर से जहीर खान और एड्रयू मैकडोनाल्ड ने दो-दो विकेट झटके जबकि विनय कुमार और हर्षल पटेल को एक-एक विकेट से संतोष करना पड़ा.

मौजूदा टूर्नामेंट में किंग्स इलेवन और चैलेंजर्स ने अब तक छह-छह मैच खेले हैं जिनमें चैलेंजर्स को तीन में और पंजाब को दो में जीत मिली है. इस जीत के साथ चैलेंजर्स टीम के छह अंक हो गए हैं जबकि किंग्स इलेवन के अभी भी चार ही अंक है. पंजाब अंक तालिका में चैलेंजर्स से नीचे आठवें स्थान पर पहुंच गई है जबकि चैलेंजर्स इस जीत के बाद सातवें स्थान पर है.

Related Posts: