राजभवन में म.प्र. बाल कल्याण परिषद द्वारा बाल दिवस कार्यक्रम सम्पन्न, शहर में कई जगह हुए आयोजन

भोपाल,14 नवम्बर.  स्वप्नदृष्टा और आधुनिक भारत के निर्माता पं. जवाहरलाल नेहरू के जन्म-दिन के अवसर पर आज यहाँ राजभवन में मध्यप्रदेश बाल कल्याण परिषद द्वारा आयोजित बाल दिवस कार्यक्रम को संबोधित करते हुए राज्यपाल रामनरेश यादव ने कहा कि देश के प्रत्येक बच्चे को संस्कृति और संस्कारों की ऐसी शिक्षा दी जाये, जिससे वे भविष्य में देश के लिये गौरव का कारण बनें.

उन्होंने कहा कि बच्चों का मन गुलाबों की तरह कोमल होता है, उनका भविष्य बचपन की परवरिश और मार्गदर्शन से तय होता है. इस अवसर पर उन्होंने सभी बच्चों को उपहार भी भेंट किये. राज्यपाल यादव ने इस मौके पर पं. नेहरू का स्मरण करते हुए कहा कि देश की औद्योगिक प्रगति और विश्व के राजनैतिक मंच पर भारत को प्रमुख स्थान दिलाने में पंडितजी का योगदान भुलाया नहीं जा सकता. इस संदर्भ में उन्होंने भोपाल के बी.एच.ई.एल. कारखाने का जिक्र किया. कार्यक्रम में उपस्थित 32 बच्चों ने गीत, सामूहिक नृत्य गीत और फैंसी ड्रेस की प्रस्तुति की. पूर्व में परिषद के प्रतिनिधियों और बच्चों ने राज्यपाल यादव का पुष्पों से स्वागत किया. परिषद के उपाध्यक्ष सोमेश दयाल शर्मा ने परिषद की गतिविधियों का संक्षिप्त विवरण देते हुए स्वागत भाषण दिया. इस अवसर पर योगेन्द्र नाथ कौशल, श्रीमती वत्सला शर्मा, हीरालाल सलवाडिय़ा, प्रहलाद शर्मा, श्रीमती पुष्पा शर्मा और राजकरण यादव उपस्थित थे. कार्यक्रम का संचालन इन्द्रजीत सिंह पाहवा ने किया.

विजन सोशल वेलफेयर एंड एज्युकेशन सोसायटी द्वारा जवाहरलाल नेहरु के जन्म दिवस के उपलक्ष्य में पर्यावरण बचाओ विषय पर चित्रकला प्रतियोगिता का आयोजन की गई. इसमें 10 वर्ष से लेकर 15 वर्ष तक के बालक-बालिकाओं भाग लिया. बच्चों द्वारा नृत्य एवं भाषण के माध्यम से सांस्कृतिक कार्यक्रम किये गये तथा चाचा नेहरु को याद किया गया. कुमारी रुचिका ठाकुर को सर्वश्रेष्ठ पुरस्कार दिया गया. इस अवसर पर समिति की ओर से श्रीमती सुजाता साहनी, श्रीमती शोभा सोनी अन्य गणमान्य नागरिक उपस्थित थे. जन समस्या निवारण प्रकोष्ठ के प्रदेश संगठन मंत्री फैजान खान एवं फैजान खान फेन्स क्लब के कार्यक्र्ताओं ने बाल दिवस गरीब बच्चों के साथ मनाया. खान ने शाहजहांनाबाद बाबे अली स्टेडियम के पास स्थित आसरा वृद्घजन के साथ नेहरु जी का जन्म दिन पर मिठाइयां बांटी. खान ने रोशनपुरा चौराहे पर नेहरु जी की पुष्पांजलि अर्पित की इस अवसर पर कार्यकर्ता एवं जिला संगठन अध्यक्ष बबलू नहारिये मौजूद थे.

किशोरी बालिका गृह नेहर नगर में आज कानूनगो एवं समाज सेविका रेखा भटनागर द्वारा बालिकाओं के लिये एक सौ थालियां भेंट की गई. इस अवसर पर बालिका गृह के अधीक्षक श्रीमती कुजुर एवं श्रीमती रचना पुरोहित, दिनेश शर्मा, महेश सक्सेना, श्रीमती लक्ष्मी सिंह सहित कई समाज सेवा उपस्थित थे.
भारतीय रेडक्रास सोसायटी म.प्र. राज्य शखा शिवाजी नगर स्थित रेडक्रास चिकित्सा में बाल दिवस पर निम्नानुसार नि:शुल्क स्वास्थ्य शिविर का आयोजन किया गया. जिसमें बच्चों के हृदय की जन्मजात बीमारियों जैसे हृदय के विभिन्न प्रकार के सुराख एवं वाल्वों की खराबियों का नि:शुल्क परामर्श एवं परीक्षण किया गया तथा 14 वर्ष तक के अन्य सभी बच्चों का स्वास्थ्य परीक्षण किया गया. स्वास्थ्य शिविर में भोपाल से एवं बाहर से आये हृदय रोग पीडि़त बच्चों का शिशु रोग कार्डियोलाजिस्ट डा. स्मिता मिश्रा, डी.एन.बी. एस्कार्ट हार्ट इंस्टीट्यूट दिल्ली द्वारा एवं अन्य सभी सामान्य रोगों से पीडि़त बच्चों का परीक्षण एवं परामर्श दिया गया. इस शिविर का लाभ 123 बच्चों द्वारा लिया गया.

एकीकृत बाल विकास बानगंगा परियोजना के द्वारा आंगनबाडिय़ों में बाल दिवस मनाकर चाचा नेहरु को याद किया गया. परियोजना अधिकारी श्रीमती नंदिता मिश्रा की उपस्थिति में बानगंगा परियोजना से संबंधित आंगनबाडिय़ों में बच्चों के लिये भिन्न-भिन्न कार्यक्रम आयोजित किये गये एवं उपस्थित बच्चों को मिठाइयां, टाफी, बिस्किट आदि बांटे गये. बाल दिवस के अवसर पर जवाहरलाल नेहर कैंसर अस्पताल एवं अनुसंधान केन्द्र में चिल्ड्रन्स वार्ड का लोकार्पण कैंसर रोग से मुक्त हुए और रोग का उपचार करा रहे बच्चों द्वारा किया गया. इस वार्ड को बनाने का मुख्य उद्देश्य बच्चों को सुखद वातावरण में मनोरंजन एवं खेलकूद की सुविधाओं के साथ उपचार की बेहतर सुविधाएं उपलब्ध कराना है. प्रथम प्रधानमंत्री पं. जवाहरलाल नेहरु के जन्म दिवस पर इस वार्ड का लोकार्पण होना अस्पताल के लिए अपने आप में एक उपलब्धि है. आईएएस आफिसर्स वाइव्स एसोसिएशन द्वारा अपनी सामाजिक गतिविधियों के अंतर्गत इस वार्ड की स्थापना हेतु रुपये दस लाख का दान अस्पताल को प्रदान किया गया है जिससे यह वार्ड विकसित एवं सुसज्जित हुआ है. लोकार्पण समारोह में आईएएस आफिसर्स वाइव्स एसोसिएशन की पदाधिकारी श्रीमती मंजु रावत, श्रीमती ममता मिश्रा, श्रीमती साधना उपाध्याय, श्रीमती नजहर खान सहित श्रीमती शकुंतला शर्मा एवं अन्य सदस्य उपस्थित थी.

देश के प्रथम प्रधानमंत्री पंडित जवाहरलाल नेहरु के 122वें जन्म दिवस पर के.वि. सीआरपीएफ बंगरसिया में रंगारंग कार्यक्रमों के साथ विद्यालय प्रांगण में बाल मेला आयोजित किया गया जिसमें विद्यालय के छात्रों और अभिभावकों ने बढ़-चढ़ïकर सहभागिता की. म.प्र. बाल कल्याण परिषद बाल दिवस के उपलक्ष्य में राजभवन में राज्यपाल एवं अध्यक्ष म.प्र. बाल कल्याण परिषद को पुष्प प्रतीक अर्पित किये गये. इस अवसर पर नन्हें-मुन्ने बच्चों द्वारा महामहिम को गुलाब की कलियां देकर सांस्कृतिक कार्यक्रम का आयोजन किया गया. बरकतउल्ला विश्वविद्यालय भोपाल में झूलाघर का उद्ïघाटन प्रो. निशा दुबे, कुलपति बरकतउल्ला विश्वविद्यालय भोपाल के द्वारा किया गया. झूला घर विश्वविद्यालय में कार्यरत अधिकारी, शिक्षक एवं कर्मचारियों के छोटे बच्चों की देखरेख के लिए खोला गया है ताकि वह अपने बच्चों को सुरक्षित स्थान पर रख सके. साथ ही अपने कार्य को उत्साहपूर्ण कर सके.

राजीव गांधी सेवा मंडल एवं अमरदीप फाउंडेशन समिति द्वारा भारत के प्रथम प्रधानमंत्री जवाहरलाल नेहरू के जन्मदिवस पर उनके चित्र पर माल्यार्पण कर बच्चों द्वारा पुष्पांजलि अर्पित की. इस अवसर पर स्कूली बच्चों द्वारा चित्रकारी प्रतियोगिता आयोजित की गई. कोलार मोहल्ला सुधार समिति सौरभ नगर के संयोजक अनिल दुबे के नेतत्व में प्रात: ललिता नगर चौराहा (आर्शि प्लाजा) के सामने चाचा नेहरू के जन्मदिवस पर बच्चों को टॉफियां एवं फलों का वितरण किया गया. ए.व्ही.एम. स्कूल नेहरु नगर भोपाल में पं. जवाहरलाल नेहरु नगर भोपाल में पं. जवाहरलाल नेहरु जी का जन्म दिन हर्षउल्लास के साथ मनाया गया एवं छात्र छात्राओं द्वारा बाल मेले का आयोजन किया गया जिसमें विभिन्न व्यंजनों के स्टाल लगाए गये.

योग्यता के पीछे दौड़ती है सफलता : महापौर

महापौर कृष्णा गौर ने कहा है कि हमें सफलता के पीछे दौडऩे के बजाय योग्यता अर्जित करनी चाहिये क्योंकि योग्यता के पीछे ही सफलता दौड़ती है. उक्त विचार महापौर गौर ने टी.टी. नगर स्थित शासकीय मॉडल हायर सेकंडरी स्कूल में बाल दिवस पर आयोजित इंटरहाउस बाल मेला व डांस कॉम्पटीशन के शुभारंभ अवसर पर व्यक्त किये. महापौर कृष्णा गौर ने टीटी नगर स्थित शासकीय मॉडल हायर सेकंडरी स्कूल में बाल दिवस पर आयोजित इंटर हाउस बाल मेला व डांस कॉम्पटीशन का शुभारंभ मां सरस्वती एवं देश के प्रथम प्रधानमंत्री स्व. पं. जवाहरलाल नेहरू के चित्र पर माल्यार्पण एवं दीप प्रज्जवलित कर किया. उन्होंने कहा कि हमारे देश के विद्यार्थी प्रतिभावान एवं ऊर्जावान हैं, इन्हें समुचित मार्गदर्शन दिया जाना आवश्यक है. उन्होंने अभिभावकों से आह्वïन किया कि वह बच्चों को उनकी रुचि के क्षेत्रों में योग्यता अर्जित करने के अवसर प्रदान करें उनकी रुचि से हटकर अन्य क्षेत्रों में जाने के लिये दबाव न बनायें.

पदयात्रा

जिला कांग्रेस के तत्वावधान में व अध्यक्ष पी.सी. शर्मा के नेतृत्व में आज पदयात्रा के साथ ही विभिन्न कार्यक्रम हुये. सुबह 9 बजे पं. नेहरू की प्रतिमा पर कांग्रेस कार्यकर्ताओं, सेवा दल के कार्यकर्ताओं और नेताओं ने पुष्पांजलि दी. बाद में अशोक भाभा ने सभी को कांग्रेस के नेतृत्व में राष्ट निर्माण का संकल्प दिलाया. इसके बाद पार्षद वहीद लश्करी के साथ सभी कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने रोजनपुरा झुग्गी बस्ती की गलियों में, रोशनपुरा मार्केट में पदयात्रा की. जनता से मिलकर उन्हें जेएनयूआरएम योजना के बारे में जानकारी दी. इसके बाद 10 बजे नेहरू नगर चौराहे पर क्षेत्रीय पार्षद संतोष कंसाना के साथ नेहरूजी की मूर्ति पर माल्यार्पण किया.

सेन्ट मोन्टफोर्ट विद्यालय में सांस्कृतिक कार्यक्रम

सेन्ट मोन्ट फोर्ट पटेल नगर में बाल दिवस पर शिक्षकों द्वारा एकल नृत्य, समूह नृत्य, समूह गान, हास्य नाटिका, अंताक्षरी आदि कार्यक्रम प्रस्तुत किये गये. सांस्कृतिक कार्यक्रमों के पश्चात्ï विद्यार्थियों और अध्यापकों के मध्य क्रिकेट मैच भी खेला गया. बाल कवि सम्मेलन श्री विश्व राधकृष्ण योग प्रचार समिति के तत्वावधान व बाल कल्याण मंच द्वारा आयोजित बाल कवि सम्मेलन हुआ. जवाहरलाल नेहरू के जन्मदिवस पर बाल कवियों ने ऐसा समां बांधा कि शायरी व कविता के रंगों से सराबोर हुआ. दुष्यंत संग्रहालय में शहर के वरिष्ठ साहित्यकारों व कवियों के बीच जैसे ही नन्हें कवि प्रणय शर्मा ने उफ? ये महंगाई प्राणों पे बन आई, ये दिन? बढ़ती जाये कैसे घर का खर्च चले, कुछ समझ न आये पढï. श्रोतागण वाह-वाह कर उठे. वहीं फाजिल खान की शायरी ने रंगत ऐसी भरी कि तालिया थम नहीं रही थीं. फाजिल कैफ ने शायरी में कहा कि पंख वहीं टूटे जहां से उडऩा था, रास्ता वहीं से भूले जहां से मुडऩा था. कार्यक्रम की अध्यक्षता डॉ. हुकुम पाल ङ्क्षसह विकल ने की. मुख्य अतिथि निराला सृजन पीठ के दिवाकर वर्मा थे.

Related Posts: