नई दिल्ली, 4 सितंबर. भारत ने चीन से कहा है कि पाकिस्तान अधिकृत कश्मीर (पीओके) में चीन की गतिविधियों से भारत चिंतित है. इस पर चीन के रक्षा मंत्री जनरल लियांग गुआंगली ने कहा कि चीन के एक भी सैनिक की तैनाती पीओके में नहीं की गई है. चीन के रक्षा मंत्री इस समय भारत की यात्रा पर हैं. पिछले आठ वर्षों में चीन के किसी बड़े सैन्य अधिकारी की यह पहली यात्रा है.

सैन्य संबंधों को मजबूत बनाने को घोषणाएं

दोनों देशों ने सैन्य संबंधों को मजबूत बनाने के लिए कई घोषणाएं की हैं. भारत-चीन ने चार साल से रुके हुए संयुक्त सैन्य अभ्यास को बहाल करने, सीमा पर सुरक्षा सहयोग मजबूत करने तथा दोनों देशों के सैन्य बलों के शिक्षा और प्रशिक्षण संस्थानों के बीच रिश्ते प्रगाढ़ करने के निर्णय शामिल हैं. दोनों देशों के रक्षा मंत्रियों के स्तर पर बैठक के बाद एक आधिकारिक घोषणा में कहा गया कि 2008 से निलंबित संयुक्त सैन्य अभ्यास जल्द बहाल किया जाएगा.

सहयोग से विवाद खत्म करें

लियांग ने कहा कि केवल निहित स्वार्थों के लिए चीन की सामान्य विकासात्मक गतिविधियों को भारत के खिलाफ युद्ध की तैयारी के रूप में दुष्प्रचारित किया जा रहा है. यह दुर्भाग्यपूर्ण है. उन्होंने कहा कि भारतीय मीडिया चीन-भारत के रिश्ते की रिपोर्टिंग करते समय बेबुनियाद आरोप लगाता है. लियांग ने कहा कि चीन इस बात का पूरा समर्थन करता है कि भारत और पाकिस्तान बातचीत और सहयोग से अपने विवाद खत्म कर लें. दोनों देशों के रक्षा मंत्रियों के स्तर पर बातचीत के बाद एंटनी ने कहा कि उन्होंने अगले साल चीन यात्रा का निमंत्रण स्वीकार कर लिया है. हालांकि अभी एंटनी के चीन जाने की तारीख का ऐलान नहीं किया गया है. लियांग ने कहा कि उनका देश भारत के साथ अपने संबंधों को बहुत महत्व देता है. हमने इस बात पर विचार किया कि दोनों देशों की सेनाओं के संबंधों को कैसे सुधारा जाए. हमने नौसैनिक क्षेत्र में सहयोग बढ़ाने पर भी विचार किया जो अदन की खाड़ी में समुद्री लुटेरों के अभियान में पहले से ही जारी है.

पाक सैनिकों ने की भारतीय चौकी पर अंधाधुंध गोलीबारी

जम्मू. एलओसी के पास जम्मू कश्मीर के पुंछ जिले में पाक सैनिकों ने भारतीय चौकी पर अंधाधुंध गोलीबारी की. हाल के दिनों में यह 16 वां मौका है जब पाक की ओर से संघर्षविराम का उल्लंघन किया गया है.

एक वरिष्ठ सैन्य अधिकारी ने बताया, कल देर रात पुंछ जिले के कृष्णागटी में हमारी अग्रिम चौकियों पर पाक सैनिकों द्वारा छोटे हथियारों से गोलीबारी की गई. उन्होंने बताया कि गोलीबारी रात 10 बजकर 45 मिनट पर शुरू हुई और अगले आधे घंटे तक जारी रही. उन्होंने यह भी बताया कि सीमापार से हुई गोलीबारी में कोई हताहत नहीं हुआ. साथ ही भारतीय सेना द्वारा भी कोई जवाबी गोलीबारी नहीं की गई. इससे पहले 19 अगस्त को भी पाकिस्तान ने संघर्षविराम का उल्लंघन करते हुए नियंत्रण रेखा पर कृष्णागटी में एक अग्रिम चौकी पर गोलीबारी की थी.

पाकिस्तान द्वारा पिछले एक महीने में 16वीं बार संघर्षविराम का उल्लंघन किया गया है.

zp8497586rq
zp8497586rq

Related Posts: