: स्थानीय लोगों को मिलेगा रोजगार :

भोपाल,22 सितंबर. मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि उनके चीन दौरे के दौरान राज्य में चीनी निवेश की संभावनाएं बेहतर दिखी हैं. लेकिन जो भी चीनी आईटी कंपनी मध्यप्रदेश में निवेश करेगी. वह कंपनी राज्य के स्थानीय लोगों को रोजगार ज्यादा देगी.

यह शर्त हमने उद्योगपतियों से मुलाकात के दौरान रखी है. ये जानकारी चौहान ने दस दिन की चीन यात्रा से लौटने के बाद मुख्यमंत्री निवास में पत्रकारों से चर्चा के दौरान कही.
उन्होंने कहा कि आईटी के क्षेत्र में निवेश के मुद्दे पर हमने वहां के कुछ प्रमुख स्थानों का भ्रमण किया है.चौहान ने 13 सितम्बर को डालियान एसेनडाल आईटी पार्क का भ्रमण किया. इस आईटी पार्क की स्थापना 2007 में की गई. एशिया की इन्फ्रास्ट्रक्चर डेवलप करने वाली एसेनडाज कंपनी द्वारा यह पार्क विकसित किया गया है.

इस कंपनी द्वारा भारत के चेन्नई तमिलनाडु में अधोसंरचरा विकास में अनेक परियोजनाएं विकसित की जा रही है. यहां पर मुख्यमंत्री द्वारा एसेनडाज के प्रस्तुतिकरण का अवलोकन किया गया तथा इंफोसिस टेक्नालॉजी इंडिया लि.की नवीन संस्थान का अवलोकन किया गया. मुख्यमंत्री ने बताया कि मध्यप्रदेश में आईटी के क्षेत्र में निवेश की संभावनाएं हैं इसको लेकर हमने भ्रमण भी किया है. उन्होंने कहा कि  एस गोपीनाथ द्वरा मुख्यमंत्री को बताया गया कि उनकी कंपनी बैंगलौर में स्थित है तथा 400 कर्मचारी कार्यरत् हैं. इस कंपनी द्वारा 11 देशों में साफ्टवेयर कम्प्यूटरर्स स्कूल संचालित किए जा रहे हैं.

वे मध्यप्रदेश में भी साफ्टवेयर कम्प्यूटर्स संचालित करने में रूचित रखते हैं.  इस संदर्भ में मुख्यमंत्री द्वारा अवगत कराया गया कि प्रदेश के स्कूलों में पीपीपी मोड पर 2500 कम्प्यूटर स्कूल संचालित किए जा रहे हैं तथा लगभग 50 हजार छोटे बड़े निजी स्कूलों में कम्प्यूटर शिक्षा की अच्छी संभावना है. अत: इस दिशा में प्रदेश में कार्य कर सकते हैं. उन्हें आईटी पार्क में परियोजना स्थापित करने के लिए आमंत्रित किया गया. श्री गोपीनाथ द्वारा इंदौर में 50 कर्मचारियों के साथ ऐसे स्कूलों के संचालन में रूचि प्रदर्शित की.

Related Posts:

अंत्योदय मेले के खिलाफ प्रदर्शन
कांग्रेस विधायकों के निलंबन को लेकर बैरागढ़ के कांग्रेसियो ने फूंका पुतला
आज कांग्रेस सत्ता में होती तो आपातकाल लगा देती - विजयवर्गीय
अवैध गैस रिफिलिंग करने वाले रैकेट का पर्दाफाश
शाजापुर में उपद्रवियों ने दो वाहनों में आग लगायी, निषेधाज्ञा लागू
दस हजार रूपए एकड़ मुआवजा देने की मांग