देश में आयकर की अब तक की एक स्थान से की गई सबसे बड़ी नकद बरामदगी

रांची, 24 नवंबर. देश में आयकर की अब तक की एक स्थान से की गई सबसे बड़ी नकद बरामदगी सामने आई है. झारखंड के धनबाद जिले में झरिया इलाके में एक कोयला ठेकेदार के यहां छापा मार कर आयकर विभाग ने 100 करोड़ रुपए की नकदी बरामद की है और अभी छापेमारी का क्रम जारी है.

रांची स्थित आयकर विभाग के अतिरिक्त निदेशक अजीत श्रीवास्तव ने बताया कि आयकर विभाग की टीम ने एक सूचना के आधार पर जब धनबाद के झरिया में कोयले के ठेकेदार लाल बाबू सिंह के घर पर मारा मारा तो अधिकारी उस समय सन्न रह गए जब उसके घर से धीरे-धीरे कर 100 करोड़ रुपए की नकदी बरामद हुई. छापेमारी में टीम को अब तक दस बैंक खाते मिले हैं. इसमें दस करोड़ का फिक्सड डिपाजिट भी है. उन्होंने कहा कि संभव है कि अभी यह पूरी रकम न हो क्योंकि अभी भी जांच का काम जारी है. लाल बाबू भरत कोकिंग कोल लिमिटेड का ठेकेदार है और मूल रूप से बलिया का रहने वाला है. लाल बाबू के पिता रामदेव सिंह बीसीसीएल में क्लर्क था. आयकर अधिकारी बैंक में ठेकेदार की जमा राशि देखकर दंग हैं.

श्रीवास्तव ने बताया कि यह देश में आयकर विभाग द्वारा किसी एक छापेमारी में एक स्थान से अब तक की सबसे बड़ी नकदी की बरामदगी है. श्रीवास्तव ने बताया कि सूचनाओं के आधार पर लाल बाबू सिंह के तमाम नामी बेनामी लाकरों बैंक खातों और अन्य स्थानों पर एक साथ की गयी छापेमारी में यह बरामदगी हुई है. जांच में अब तक जो खुलासे हुए हैं उनके अनुसार ठेकेदार के फर्म के नौकरों रिश्तेदारों आदि के नाम पर लाकरों और बैंक खातों में नकदी रखी गई थी. जांच मे फर्जी पैन कार्ड और दस्तावेजों के धड़ल्ले से इस्तेमाल की बातें भी उजागर हुई है. दामोदर घाटी में क्षेत्र में स्थित झरिया खनिज इलाके में धड़ल्ले से खनिजों की अवैध खुदाई और इनका व्यापार होता रहा है. इसी सिलसिले में सूचना मिलने पर विभाग ने आज की कार्रवाई की. श्रीवास्तव ने बताया कि अभी भी अनेक स्थानों पर नोटों की गिनती का काम जारी है . यह काम पूराह होने पर नकदी बरामदगी बढ़ सकती है. जांच के बाद ही पूरा होगा कि ठेकेदार ने कितनी कमाई की और कितने आयकर विभाग से छुपाई.

Related Posts: